प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों की अब खैर नहीं, लगेगा रासुसा

प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों की अब खैर नहीं, लगेगा रासुसा

Ashish Kumar Pandey | Publish: Sep, 05 2018 02:31:41 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

सीएम योगी ने कहा-जिस एजेंसी की कमी से पेपर लीक होगा, उसे ब्लैकलिस्ट किया जाएगा।

 

लखनऊ. प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों की अब खैर नहीं होगी क्यों कि योगी सरकार प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगाएगी। प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक न हों और साफ-सुथरी हों, इसके लिए सरकार ने यहां विभिन्न आयोगों और बोर्डों के चेयरमैन के साथ बैठक की। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लगाया जाएगा। बतादें कि नलकूप चालकों के पद पर दो सितंबर को होने वाली परीक्षा का पेपर एक दिन पहले ही यानी की एक सितंबर को लीक हो गया था। इसके बाद परीक्षा को रद्द करनी पड़ी थी। इसको लेकर काफी बवाल भी हुआ था। अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा काटा था।
बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि आयोग को निर्देश दिए गए हैं कि वह पुलिस-प्रशासन के साथ बैठक कर ठोस कार्ययोजना बनाए। उन्होंने कहा कि किसी भी परीक्षा से पहले पुख्ता तैयारी की जाए कि किसी भी हालत में पेपर लीक न हो सके। उन्होंने कहा कि पेपर लीक जिस एजेंसी की कमी से होगा, उसे ब्लैकलिस्ट किया जाएगा। इतना ही नहीं अगर एजेंसी सरकार से मान्यता प्राप्त है तो उसकी मान्यता भी समाप्त कर दी जाएगी।
बतादें कि दो सितंबर को होने वाली राज्य अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) का पेपर परीक्षा से एक दिन पहले यानी 1 सितंबर को ही लीक हो गया था। इसके चलते परीक्षा को निरस्त करना पड़ा था। इससे पहले 15 जुलाई को हुई अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की एक परीक्षा के पेपर लीक की भी अभी जांच चल रही है। दो सितंबर को होने वाली नलकूप चालक की परीक्षा के लीक होने के बाद से सरकार की काफी किरकिरी हुई थी, वहीं अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल भी किया था। यह पहला मौके नहीं है जब किसी परीक्षा से पहले ही पेपर लीक हो गया। इससे पहले भी कई ऐसा देखा गया जब परीक्षा से पहले ही पेपर लीक हो गए। अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसे लोगों पर रासुका लगाने की बात कही है जो पेपर लीक करेंगे।

Ad Block is Banned