अच्छी खबर: एससी एसटी के छात्रोंं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए मिलेगी निशुल्क कोचिंग

यूपी में अब एससी एसटी (SC-ST) छात्रों को निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। सेवा योजन विभाग ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

By: Karishma Lalwani

Published: 09 Mar 2021, 10:50 AM IST

लखनऊ. यूपी में अब एससी एसटी (SC-ST) छात्रों को निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। सेवा योजन विभाग ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। एससी एसटी व अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को समूह 'ग' (तृतीय श्रेणी) की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराएगा। यही नहीं बल्कि कोचिंग में पढ़ने वाले एससी एसटी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति भी मिलेगी। कोचिंग एक अप्रैल से शुरू होगी और निशुल्क कोचिंग होगी। कोचिंग के लिए 20 मार्च तक आवेदन किया जा सकता है।

इन डॉक्यूमेंट्स के साथ कर सकते हैं आवेदन

सहायक निदेशक अरशद अली ने कहा कि आवेदन का प्रारूप कार्यालय के नोटिस बोर्ड पर लगा है। अभ्यर्थी अपनी मार्कशीट, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड और एक फोटो लगाकर भी आवेदन कर सकते हैं। अभ्यर्थी इंटर पास होना चाहिए। आवेदन के लिए उसकी उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होना चाहिए। कोचिंग के लिए अभ्यर्थियों को चयन साक्षात्कार के जरिए होगा। एससी व एसटी के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार 23 मार्च को व ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार 24 मार्च को सुबह 11 बजे से होगा।

सिविल परीक्षा की तैयारी करने वालों के लिए निशुल्क कोचिंग

सिविल सेवा जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में महंगी फीस की वजह से अक्सर कई छात्र पीछे रह जाते हैं। ऐसे में कई छात्र पैसे के अभाव में अच्छी कोचिंग का लाभ नहीं ले पाते हैं। प्रदेश के ऐसे युवाओं को इस परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए यूपी सरकार ने 'मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना' की शुरुआत की है। इस कोचिंग को लेकर तैयारी पूरी की जा चुकी है। वसंत पंचमी यानी 16 फरवरी से हर मंडल में अभ्युदय कोचिंग की शुरुआत हो जाएगी। मंडलों के बाद प्रदेश के हर जिले में भी कोचिंग शुरू होगी। यह कोचिंग राज्य स्तर, मंडल स्तरीय और उपमा के माध्यम से चलाई जाएगी। राज्य स्तरीय समिति के लिए उप्र प्रशासन एवं प्रबंधन अकादमी (उपाम) को नोडल संस्था और समाज कल्याण विभाग को नोडल विभाग नामित किया गया है। जबकि मंडल स्तरीय समिति के लिए नोडल अधिकारी का चयन मंडलायुक्त करेंगे।

ये भी पढ़ें: यूपी में इस साल 8वीं तक के बच्चों की नहीं होगी वार्षिक परीक्षा, असेसमेंट के आधार पर घोषित होंगे रिजल्ट

ये भी पढ़ें: जमीन पर कब्जे को लेकर दो पक्षों में हुआ जमकर संघर्ष

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned