कुदरत ने दिखाया भयावह रूप, काली आंधी-बारिश ने मचाई तबाही, ली 16 की जान, इन 20 जिलों को अलर्ट रहने की जरूरत

कानपुर देहात, चित्रकूट, हमीरपुर, औरैया समेत कई जिलों में धूल भरी आंधी आई, जिसके बाद तेज बारिश भी हुई। जिससे बड़े पैमाने पर जनहानि भी हुई है। वहीं कई जिलों में बिजली गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई। इनमें कासगंज में 4, बलिया में 2, चित्रकूट में 2, मऊ थाना क्षेत्र के सुहेल गांव में 2, बुलंदशहर, बदायूं, पीलीभीत में एक-एक लोग शामिल हैं। फतेहपुर, मिर्ज़ापुर, इटावा, नोएडा में भी 1-1 व्यक्ति की मौत हुई है।

By: Abhishek Gupta

Published: 10 May 2020, 08:32 PM IST

लखनऊ. कोरोना जैसी घातक बीमारी के बीच रविवार को कुदरत ने भयावह रूप दिखा दिया। काली आंधी और तेज ठंड भरी हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश ने राजधानी लखनऊ समेत प्रदेश भर के कई जिलों में भारी तबाही मचाई। जहां हर वर्ष मई के महीने में लोगों को चिलचिलाती गर्मी से दो-चार होना पड़ता था, वहीं इस वर्ष मौसम का अलग ही रूप देखने को मिल रही है। आंधी और बारिश से तापमान नियंत्रण में है। लोगों को उस गर्मी का अहसास नहीं हो रहा जिसके लिए मई जानी जाती थी। लेकिन यह आंधी, बारिश और ओलावृष्टि तबाही भी ला रही है। रविवार को प्रदेश के अलग-अलग जिलों में मौसम कहर बनकर लोगों पर टूटा। आंधी की तीव्रता ऐसी कि किसी का उसके सामने टिक पाना मुश्किल। घरों व दफ्तरों को अंदर भी लोग सहम उठे। इससे कई पड़े, रोड पर लाइटे उखड़ गई, बाइकें गिर गई। बिजली का पोल, टीन, छप्पर आदि उड़ गए। लखनऊ की बात करें तो हजरतगंज में रोड के किनारे मायावती शासन में लगाई गई खूबसूरत लाइटें टूटकर रोड पर गिर गई। मल्टी लेवेल पार्किंग के पास का पेड़ उखड़कर रोड पर गिर गया। कुछ ऐसी ही तस्वीरे राज्य के अन्य जिलों से भी आई। साथ ही इससे 14 लोगों की जान चली गई। यह आंकड़ा बढ़ भी सकता है। वहीं आंधी-तूफान अभी थमने वाला नहीं है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो यूपी के 20 जिलों को अलर्ट रहने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें- 10 दिनों में दस नए जिलों में पहुंचा कोरोनावायरस, अब सिर्फ यूपी के यह जिले अछूते

Rain and storm

इन जिलों में हुई मौतें-

रविवार को लखनऊ, कानपुर, फर्रुखाबाद, हरदोई, कानपुर देहात, चित्रकूट, हमीरपुर, औरैया समेत कई जिलों में धूल भरी आंधी आई, जिसके बाद तेज बारिश भी हुई। जिससे बड़े पैमाने पर जनहानि भी हुई है। वहीं कई जिलों में बिजली गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई। इनमें कासगंज में 4, बलिया में 2, चित्रकूट में 2, मऊ थाना क्षेत्र के सुहेल गांव में 2, बुलंदशहर, बदायूं, पीलीभीत में एक-एक लोग शामिल हैं। फतेहपुर, मिर्ज़ापुर, इटावा, नोएडा में भी 1-1 व्यक्ति की मौत हुई है। यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। वहीं कई लोगों को घायल होने की खबर हैं।

ये भी पढ़ें- बड़ी राहत: बनारस के 15 कोरोना मरीजों की रिपोर्ट आई नेगेटिव, अब तक 45 ने जीती कोरोना से जंग

मौसम विभाग ने इन जिलों में जारी किया अलर्ट-
मौसम अभी अपना विकराल रूप दिखा सकता है। मौसम विभाग ने ब्रज क्षेत्र, पश्चिमी यूपी व तराई के कुछ जिलों में इसके लेकर अलर्ट जारी किया है। इनमें आगरा, एटा, कासगंज, मथुरा, पीलीभीत, इटावा, शाहजहांपुर, हाथरस, अलीगढ़, रामपुर, संभल, बुलंदशहर, मैनपुरी, बदायूं, बलरामपुर, बरेली, फर्रूखाबाद, फिरोज़ाबाद व औरैया शामिल हैं। इन जिलों को लोगों को रविवार रात व सोमवार सुबह तक सतर्क रहने की जरूरत है। अनुमान के मुताबिक इन जिलों में 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चल सकती है। साथ ही बारिश और बिजली गिरने की भी आशंका है।

Show More
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned