10 दिनों में दस नए जिलों में पहुंचा कोरोनावायरस, अब सिर्फ यूपी के यह जिले अछूते

कोरना अपडेट-

- हर रोज बढ़ रहा आंकड़ा, अब तक कुल 3,467 संक्रमित

- डिस्चार्ज हुए 1,504

- 79 की हुई मौत

By: Abhishek Gupta

Published: 10 May 2020, 06:29 PM IST

लखनऊ. कोरोना वायरस का संक्रमण उत्तर प्रदेश के 75 में से 71 जिलों में फैल चुका है। अब केवल चार जिले ही इसकी पहुंच से दूर हैं, लेकिन जिस रफ्तार से यह संक्रमण फैल रहा है, उससे बाकी चार जिले बच निकलेंगे, यह कहना मुश्किल है। शनिवार को ही तीन नए जिले फर्रुखाबाद, हमीरपुर व ललितपुर में पहली बार कोरोना के मरीज सामने आए हैं। मई माह में ऐसे कुल दस नए जिलों में कोरोना ने दस्तक दे दी है। वहीं शनिवार को एक दिन में सर्वाधिक 10 मौतें भी दर्ज की गई हैं, जिसके साथ ही कुल मृतकों की संख्या 79 हो गई है। यूपी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को बताया कि प्रदेश में 1,884 मामले एक्टिव हैं। अब तक प्रदेश से कुल 3,467 कोरोना पाॅजिटिव के मामले सामने आए हैं। अब तक 1,504 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। लेकिन प्रतिदिन औसतन नए मामले में कोई कमी नहीं आ रही। हर दिन 100-150 लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं और यह स्वास्थ्य विभाग के लिए चिंता का विषय हैं। रविवार को झांसी में चार, कासगंज में तीन, बांदा में दो, फर्रुखाबाद में एक, उन्नाव में एक नया मरीज मिला है।

ये भी पढ़ें- जमीन खुदाई के दौरान मिले ब्रिटिश काल के सिक्के, देखते ही भिड़ गए लोग, एसडीएम आए मौके पर

इन 10 नए जिलों में मिले कोरोना मरीज-

वहीं मई माह की शुरुआत से लेकर अब तक 10 नए जिलों में कोरोना ने अपनी मौजूदगी दर्ज कर दी है। इनमें सिद्धार्थ नगर, देवरिया, महोबा, अमेठी, कुशीनगर, चित्रकूट, फतेहपुर, फर्रुखाबाद, हमीरपुर, व ललितपुर शामिल हैं। शनिवार तक सिद्धार्थ नगर में 19, देवरिया में 3, महोबा में 2, कुशीनगर में 3, अमेठी में 5, चित्रकूट में 6, फतेहपुर में 2, फर्रुखाबाद, हमीरपुर, ललितपुर में एक-एक मरीज सक्रिय हैं। अप्रैल माह के अंत में कानपुर देहात में भी कोरोना ने दस्तक दे दी थी। यह सभी जिले ग्रीन जोन में शामिल थे। इसके अतिरिक्त महाराजगंज, हाथरस, बाराबंकी, लखीमपुर खीरी, शाहजहांपुर ऐसे जिले हैं, जिनमें शुरुवाती समय में कोरोना मरीज मिले थे, लेकिन बीते काफी दिनों से यहां कोई नया केस सामने न आने के कारण इन्हें भी ग्रीन जोन में डाला गया। वहीं अंबेडकर नगर, बलिया, चंदौली, सोनभद्र वह चार जिले हैं जो अभी भी कोरोना की पहुंच से दूर हैं। आपको बता दें कि यूपी के कुल 20 जिले ग्रीन जोन में शामिल थे।

ये भी पढ़ें- लखनऊः पहुंचने ही वाला था घर, ट्रेन में हो गई मौत, अन्य श्रमिकों में कोरोना को लेकर फैला डर

एक दिन में 10 की मौत-

शनिवार को कोरोना से 10 मरीजों की जान चली गई। इसमें आगरा शहर में पांच कोरोना संक्रमितों ने दम तोड़ दिया, जिसके बाद आगरा प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। इसके अतिरिक्त मेरठ में दो, अलीगढ़, ललितपुर, नोएडा में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई। यूपी में अब तक कोरोना वायरस से 79 लोगों की मौत हो चुकी है।

मेडिकल व्यवस्था हो रही मजबूत-

इस बीच राहत यह है कि लोग तेजी से स्वस्थ्य भी रो रहे हैं। प्रतिदिन 100 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य होकर घर जा रहे हैं। अमित मोहन के मुताबिक राष्ट्रीय स्तर पर कोरोना मरीजों की रिकवरी दर लगभग 30 प्रतिशत है, जबकि उत्तर प्रदेश में यह दर लगभग 43 प्रतिशत है। इसी के साथ ही यूपी की स्वास्थ्य से जुड़ी व्यवस्थाओं को और मजबूत किया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना टेस्टिंग लैब की संख्या बढ़कर 26 हो गयी है। निजी एवं सरकारी लैब में की गई जांचों को मिलाकर प्रदेश में अब तक 1,24,791 कोरोना के टेस्ट किए जा चुके हैं। प्रदेश में एल-1, एल-2 एवं एल-3 अस्पतालों में कुल 53,459 बेडों की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली गई है, जिसमें राजकीय, निजी मेडिकल कॉलेजों में 24,266 बेड तथा सरकारी चिकित्सालयों में 29,193 बेड उपलब्ध हैं।

एक नजर में 20 ग्रीन जोन जिलों का हाल-

मई माह में इन नए जिलों में मामले आए सामने- सिद्धार्थ नगर, देवरिया, महोबा, अमेठी, कुशीनगर, चित्रकूट, फतेहपुर, फर्रुखाबाद, हमीरपुर, ललितपुर

काफी समय से यहां नहीं मिले मरीज- महाराजगंज, हाथरस, बाराबंकी, लखीमपुर खीरी, शाहजहांपुर, कानपुर देहात

यह जिले हैं अभी भी कोरोना की पहुंच से दूर- अंबेडकर नगर, बलिया, चंदौली, सोनभद्र

BJP Corona virus
Show More
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned