उन्नाव केस : यूपी सरकार से 20 मामलों में रिपोर्ट मांगने की याचिका सुप्रीम कोर्ट से खारिज

उन्नाव केस : यूपी सरकार से 20 मामलों में रिपोर्ट मांगने की याचिका सुप्रीम कोर्ट से खारिज

Hariom Dwivedi | Updated: 13 Aug 2019, 03:17:09 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- Unnao Case मामले की अगली सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में 19 अगस्त को होगी
- SC ने दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिवार के खिलाफ दर्ज अन्य 20 मामलों की प्रगति रिपोर्ट यूपी सरकार से मंगवाने से इनकार कर दिया है

लखनऊ. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से उन्नाव मामले को लेकर बड़ी खबर है। सर्वोच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) से दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिवार के खिलाफ दर्ज अन्य 20 मामलों की प्रगति रिपोर्ट मंगवाने से इनकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम इस मामले ( Unnao Case) के दायरे को और बढ़ाना नहीं चाहते हैं और अन्य मामलों में दखल नहीं देना चाहते हैं। याचिका में यूपी सरकार से पीड़िता और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ दर्ज 20 मामलों की स्टेटस रिपोर्ट उपलब्ध कराने की मांग की गई थी।

जस्टिस दीपक गुप्ता और बीआर गवई ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि वह राज्य में उनके खिलाफ दायर मामलों का न तो दायरा बढ़ाएंगे और न ही उसमें हस्तक्षेप करेंगे। सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में पेश हुए एक अधिवक्ता ने कहा कि दिल्ली स्थानांतरित किये चार मामलों की सुनवाई प्रतिदिन यहां विशेष अदालत में जारी है। सुप्रीम कोर्ट में उन्नाव मामले पर अब अगली सुनवाई 19 अगस्त को होगी।

यह भी पढ़ें : उन्नाव केस में की प्रतिदिन हो रही सुनवाई, खुल रहे कई राज

उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म मामले (Unnao Case) की सुनवाई रोजाना दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में हो रही है। मंगलवार को भी रेप के आरोपित विधायक कुलदीप सिंह को कोर्ट में पेश किये गये। गौरतलब है कि उन्नाव मामले में तीस हजारी कोर्ट ने मुख्य आरोपित कुलदीप सिंह सेंगर खिलाफ आरोप तय कर चुकी है। दूसरी तरफ सीबीआई टीम उन्नाव रेप पीड़िता की कार एक्सीडेंट मामले में सीबीआई ट्रक चालक व कंडक्टर से रोजाना पूछताछ कर रही है। सोमवार को नौ घंटे तक दोनों का परीक्षण किया गया, जिसमें सीबीआई को तमाम अहम जानकारियां मिलीं। मंगलवार को गुजरात के गांधीनगर स्थित एफएसएल लैब में दोनों का ब्रेन इलेक्ट्रिकल ऑसिलेशन सिग्नेचर प्रोफाइलिंग टेस्ट करवाया गया। अब तक दोनों के कई टेस्ट हो चुके हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned