यूपी में उगेगा तेलंगाना का धान और ज्वार- दो राज्यों के बीच हुआ एमओयू

यूपी में उगेगा तेलंगाना का धान और ज्वार- दो राज्यों के बीच हुआ एमओयू

Anil Ankur | Publish: Sep, 16 2018 07:55:57 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

उत्तर प्रदेश बीज निगम 25 हजार कुन्टल ढैंचा बीज तेलंगाना राज्य को उपलब्ध कराएगा

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश बीज निगम एवं तेलंगाना बीज निगम के बीच हुए अनुबंध के तहत उत्तर प्रदेश बीज निगम तेलंगाना राज्य को 25 हजार कुन्टल ढैंचा बीज उपलब्ध कराएगा तथा किसानों की जरुरत के हिसाब से उत्तर प्रदेश को तेलंगाना बीज निगम अच्छी किस्म का धान, चना, ज्वार-बाजरा एवं मक्के आदि के बीज उपलब्ध कराएगा।

दोनों राज्य अपने यहां की अच्छी प्रजाति के बीजों का आदान-प्रदान करेंगे

प्रदेश के कृषि एवं कृषि शिक्षा तथा कृषि अनुसंधान मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने आज आंध्र प्रदेश एवं तेलंगाना राज्य के कृषि संबंधी संस्थानों को देखने के बाद यह जानकारी दी। तेलंगाना राज्य बीज तथा जैविक प्रमाणीकरण अथाॅरिटी में आज दोनों राज्यों के अधिकारियों द्वारा कृषि संबंधी प्रस्तुतीकरण भी किया गया। इस अवसर पर कृषि मंत्री शाही ने कहा कि दोनों राज्य अपने यहां की अच्छी गुणवत्ता वाली किस्मों के बीजों का आदान-प्रदान कर किसानों को लाभान्वित कर सकते हैं।

तेलंगाना सरकार द्वारा संचालित नूजी वीडू बीज प्लांट एवं प्रोसेसिंग प्लांट

शाही ने आज तेलंगाना में किसानों द्वारा सहकारिता आधारित एवं संचालित मुल्कानूर को-आपरेटिव रुरल बैंक तथा मार्केटिंग सोसाइटी, करीम नगर का निरीक्षण किया तथा वहां प्रगतिशील किसानों से कृषि संबंधी जानकारी प्राप्त की। इसके अलावा तेलंगाना सरकार द्वारा संचालित नूजी वीडू बीज प्लांट एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निरीक्षण किया तथा सीड हब के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बालानगर में आर.ए.एस. योजना के तहत मछली उत्पादन केन्द्र का भ्रमण किया जहां आर.ए.एस. पद्धति से मछली का उत्पादन 30 से 40 प्रतिशत ज्यादा उत्पादन होता है।

किसान बंधु योजना तथा किसान बीमा योजना

कृषि मंत्री ने तेलंगाना सरकार द्वारा चलायी जा रही किसान बंधु योजना तथा किसान बीमा योजना के बारे में जानकरी प्राप्त की। किसान बीमा योजना के तहत तेलंगाना सरकार प्रति किसान प्रतिवर्ष 2250 रुपये की बीमा धनराशि बीमित किसान का जमा करती है। किसी दुर्घटना मंे किसान की मृत्यु होने की दशा में 05 लाख रुपये बीमा धनराशि मिलती है। कृषि मंत्री ने प्रदेश के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इन योजनाओं का विस्तृत अध्ययन करें और इसे उत्तर प्रदेश में भी लागू करने की सम्भावना का पता लगाएं।

 

Ad Block is Banned