scriptuntold story of lucknow rape victim new born girl | नाबालिग मां को बच्ची का खुला खत- मेरी मम्मी: नौ महीने कोख में रखा... फिर क्यों ठुकरा दिया! | Patrika News

नाबालिग मां को बच्ची का खुला खत- मेरी मम्मी: नौ महीने कोख में रखा... फिर क्यों ठुकरा दिया!

दुष्कर्म की शिकार हुई 12 साल की बच्ची मां बन चुकी है, दुष्कर्म का आरोपी जेल में बंद है

लखनऊ

Updated: January 02, 2018 03:02:35 pm

रुचि शर्मा

मेरी प्यारी मम्मी,

मां तो ममता की मूरत होती है ना मां... तो तुम इतनी पत्थर दिल कैसे हो गई? नौ महीने तक मुझे अपनी कोख में रखने के बाद तुमने मुझे अपनाने से इंकार कर दिया। ये भी भूल गई कि मेरा जिस्म तुम्हारे खून के कतरे-कतरे से बना है। वो प्रसव पीड़ा भी तुमने भुला दी मां जो तुमने मुझे जन्म देते वक्त सहन की थी। ये सच है कि मैं तुम्हारी मर्जी से तुम्हारी कोख में नहीं आई थी, पर मुझे जन्म तो तुमने दिया है ना मां। जन्म देने के बाद जब तुमने मुझे अपनाने से इंकार किया तब एक पल के लिए भी नहीं सोचा कि मैं अकेले इस दुनिया में कैसे जियूंगी। जब भी कभी मुश्किल आएगी तब किसे याद करूंगी। दर्द में कौन मुझे गले लगाएगा, नींद न आने पर कौन लोरियां सुनाएगा। भूख लगेगी तो कौन खाना खिलाएगा। मां मैं किसकी उंगलियां थाम चलना सीखूंगी। मुझे नकारते वक्त मां तुमने एक बार भी नहीं सोचा कि कल जब मैं बड़ी होऊंगी तब वो हादसा मेरे साथ भी हो सकता जो तुम्हारे साथ हुआ।
rape victim

मैं समझ सकती हूं मां, बचपन तुम्हारा भी किसी दरिंदे ने छीन लिया। तुम्हारे सपनाें की भी हत्या हुई है। 12 साल की उम्र में तुमने भी अथाह तकलीक सही हैं। लेकिन मां फिर भी सवाल तुमसे ही करूंगी...
 

जब मुझे अपनाना नहीं था तो मुझे जन्म ही क्यूं दिया। तुम्हारे बिना आज नहीं तो कल मैं वैसे भी मर जाऊंगी, पर मेरी आत्मा तो अभी ही मर चुकी है मां। प्लीज मां, मुझे बताना जरूर मेरी क्या गलती है जो मुझे यूं ही बीच राह में मरने के लिए छोड़ दिया। सुना था ननिहाल में बच्चों को सबसे ज्यादा प्यार मिलता है। लेकिन मैं इतनी बदनसीब हूं कि मेरी नानी को मेरी जिंदगी से ज्यादा समाजिक लोक-लाज का डर है। मां मेरे जन्म के बाद जैसे ही तुमने मुुझे नकारा मैं समझ गई थी कि मैंं गलत दुनिया में आ गई हूं। यहां इंसान नहीं, पत्थर के बुत बसते हैैं और पत्थरों में संवेदनाएं तो होती नहीं हैं।
 

हाड़-मांस के इंसान की संवेदनाएं हैं ताबूतों में कैद, इंसानियत जहां खत्म हो जाए वहां हर रंग लगता है स्याह चाहे हो कितना सफेद....

 

तुम्हारी गुड़िया

दो दिन पहले की बात है। राजधानी लखनऊ के सुगापुर गांव की रहने वाली एक 12 साल की नाबालिग ने सदर अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया। दुनिया उसे बच्ची को नाजायज कहती है, क्योंकि एक दरिंदे ने उसकी नाबालिग मां का बलात्कार किया था, जिसके नतीजे में वह कोख में आई। गुडिय़ा को जन्म देने वाली मां और रिश्तेदारों ने कबूल करने से इंकार कर दिया है। कौन गुडिया को पालेगा, कौन उसे अपनीछाती से चिपकाकर रखेगा। अगर गुडिय़ा बोल पाती तो पाती के इन्हीं जज्बातों को बयान करती..

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

गोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफासुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदUP Assembly Elections 2022 : टिकट कटा तो बदली निष्ठा, कोई खोल रहा अपने नेता की पोल तो कोई दे रहा मरने की धमकीUP Assembly Elections 2022 : बसपा की दूसरी लिस्ट में 3 महिलाएं, 22 मुस्लिम चेहरें शामिल, देखिए पूरी लिस्टपीएम मोदी ने की जिला अधिकारियों से बात, बोले- आजादी के 75 साल बाद भी कई जिले रह गए पीछे, अब हो रहा अच्छा कामजम्मू-कश्मीरः शोपियां एनकाउंटर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, एक आतंकी ढेरअस्पताल में भर्ती लता मंगेशकर की सेहत को लेकर खबरें वायरल, टीम ने जारी किया बयानGujarat Hindi News : पेज कमिटी के सदस्यों के साथ वर्चुअल मीटिंग करेंगे पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.