लखनऊ में पेट्रोल 35 रुपए लीटर और डीजल 25 रुपए में !

Prashant Srivastava

Publish: Sep, 17 2017 01:28:52 (IST) | Updated: Sep, 17 2017 09:13:53 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
लखनऊ में पेट्रोल 35 रुपए लीटर और डीजल 25 रुपए में !

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, राजधानी में कम कीमतों पर पेट्रोल और डीजल बेचा

लखनऊ. शहर में पेट्रोल 35 रुपए और डीजल 25 रुपए लीटर में बेचा गया। ईंधन की कीमतों में आग के विरोध का यह तरीका शानदार था। सड़क जाम और हो-हल्ला नहीं था, नतीजे में पब्लिक को कोई दिक्कत नहीं हुई। जैसे लोगों को आधी से भी कम कीमत पर पेट्रोल-डीजल मिलने की खबर मिली तो लपककर विधानसभा के सामने खुले ‘पेट्रोल पंप’ पर पहुंच गए। एक दिवसीय ‘पेट्रोल पंप’ का कांग्रेसियों ने उद्घाटन किया था। मकसद था क्रूड ऑयल सस्ता होने के बावजूद पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी का विरोध। विरोध की यह आवाज सियासत के गलियारों में खूब गूंजी और सराही गई। अब अगले चरण में कांग्रेसियों का ‘पेट्रोल पंप’ शहर में दूसरे स्थानों पर अगले सप्ताह खुलेंगे। दावा है कि यह अनूठा विरोध तब तक जारी रहेगा, जब तक सरकार ईंधन नीति को लेकर संजीदा नहीं होगी।

 50 लीटर बेचा ईंधन

कांग्रेस के प्रदेश सचिव शैलेंद्र तिवारी की अगुवाई में राजधानी में पेट्रोल, डीजल बेचा गया। विधानसभा के सामने सुबह आठ बजे से 11 बजे के बीच ये 'पेट्रोल आउटलेट' चला। शैलेंद्र तिवारी के मुताबिक ये केंद्र सरकार का सांकेतिक विरोध था, जिस तरह से पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं उसे देखते हुए कांग्रेसियों ने अनोखे ढंग से ये विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान 30 लीटर पेट्रोल और 20 लीटर डीजल बेचा गया। पेट्रोल 35 रुपए और डीजल 25 रुपए लीटर में बेचा गया।

अगले सप्ताह भी खुलेंगे ‘पेट्रोल आउटलेट’

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना था कि अगर सरकार पेट्रोल की कीमतें नहीं घटाती है तो अगले सप्ताह दोबारा से वह इस तरह का विरोध प्रदर्शन करेंगे। अगले सप्ताह विकासनगर, गोमती नगर में भी पेट्रोल आउटलेट लगाया जाएगा। यूं तो राजधानी में रविवार को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी का जन्मदिन धूम धाम से मनाया तो वहीं कांग्रेसियों ने पेट्रो-डीजल के बहाने पीएम मोदी का विरोध किया। कांग्रेस के प्रदेश सचिव शैलेंद्र तिवारी के मुताबिक,उन्होंने जिस दाम पर पेट्रोल-डीजल बेचा दरअसल देशभर में भी अगर टैक्स हटा दिया जाए तो उतने का ही पेट्रोल-डीजल बिकेगा। दूसरे देशों में भी लगभग उतनी ही कीमतों पर पेट्रलो-डीजल बिक रहा है।

 यह है पेट्रोल-डीजल का मौजूदा गणित

पेट्रोल-डीजल की रोजाना बदलती कीमतें रोजाना जोर का झटका धीमे से लगने जैसी साबित हो रही हैं। ढाई महीने के भीतर पेट्रोल की कीमतों में छह रुपये तो डीजल की कीमत में तीन रुपये तक का बढ़ोत्तरी हुई है। बता दें कि 16 जून से पेट्रोल और डीजल की कीमतें हर दिन अंतरराष्ट्रीय मार्केट के हिसाब से बदल रही हैं।कीमतों में बदलाव कल सुबह 6 बजे होती है। आंकड़ो पर नजर डालें तो लगातार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़े हैं।

तारीख  पेट्रोल रेट (प्रति लीटर)    डीजल रेट (प्रति लीटर)

1 जुलाई - 66.53रुपए    -55.18रुपए

1 अगस्त -68.63रुपए    -56.46रुपए

1 सितंबर -71.61रुपए    -58.50रुपए

 

लखनऊ पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी सिद्धार्थ श्रीवास्तव का कहना है कि पेट्रोल-डीजल के रोजाना बदलते दामों का फैसला सरकार की ओर ले लिया गया है। इसमें हम लोग कुछ नहीं कर सकते। हमने इस फैसले को मंजूर कर लिया है। हालांकि इससे हमारा भी नुकसान हुआ है। हमारी इनपुट कॉस्ट बढ़ गई है। शुरुआत में भी हम पर तीन रुपये तक का डिप आया था। अगर कीमतें बढ़ी भी हैं तो इससे हमारा कोई फायदा नहीं हो रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned