पानी की टंकी पर लगेगा ताला, यूपी सरकार ने कहा सीढ़ीयों पर लगा दें ताला ताकि न कर पाए कोई प्रदर्शन

शासन ने निर्णय लिया है कि पानी की टंकियों की सीढ़ियों पर ताला लगा दिया जाए, जिससे कि कोई उस पर चढ़कर आत्महत्या या प्रदर्शन न कर पाए

By: Karishma Lalwani

Published: 11 Nov 2020, 10:44 AM IST

लखनऊ. हरदोई अधिवक्ता विजय प्रताप सिंह द्वारा सपरिवार 66 घंटों तक पानी की टंकी पर चढ़े रहने के विवाद को उत्तर प्रदेश सरकार ने गंभीरता से लिया है। शासन ने निर्णय लिया है कि पानी की टंकियों की सीढ़ियों पर ताला लगा दिया जाए, जिससे कि कोई उस पर चढ़कर आत्महत्या या प्रदर्शन न कर पाए। साथ ही अनुपयोगी टंकियों को गिरा दिए जाने का भी निर्देश है। इस संबंध में मुख्य सचिव आरके तिवारी की ओर से सभी जिलधिकारियों को निर्देश जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों, पुलिस आयुक्तों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों व पुलिस अधीक्षकों को मंगलवार को पत्र जारी किया गया। इसमें कहा गया है कि समय-समय पर कुछ व्यक्तियों द्वारा पानी की टंकी पर चढ़कर विरोध प्रदर्शन किया जाता है। यह जन सुरक्षा की दृष्टि से उचित नहीं है। सभी पानी की टंकियों की सीढ़ी और परिसर को ताला लगाकर बंद रखा जाए। साथ ही ऐसी व्यवस्था बना दी जाए कि कोई अवांछित व्यक्ति पानी की टंकी पर न चढ़ने पाए। जो टंकियां अनुपयोगी हो चुकी हैं, उनको तोड़ने और निस्तारित करने की व्यवस्था भी की जाए।

ये भी पढ़ें: महिला के कारनामों से परेशान ग्रामीणों ने एसडीएम को लिखा पत्र, कहां दूसरे शहर बसने को होंगे मजबूर, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

ये भी पढ़ें: प्रदूषण ने बढ़ाया डिप्रेशन, याददाश्त हो रही कमजोर, भूख भी हो रही प्रभावित

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned