यूपी में 13 हजार शिक्षकों की भर्ती पर संकट बरकरार, 18 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी परेशान

Nitin Srivastava

Publish: Sep, 17 2017 12:44:50 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
यूपी में 13 हजार शिक्षकों की भर्ती पर संकट बरकरार, 18 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी परेशान

उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के गठन के बाद से ही माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में काम ठप पड़े हैं।

लखनऊ. टीजीटी एवं पीजीटी के पदों की होने वाली भर्तियों पर अभी भी संकट बरकरार है। यूपी में माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड का गठन नहीं होने से TGT और PGT के 13 हजार से अधिक पदों की भर्ती अटक गई है। इसमें 2016 में ही अकेले कई विषयों की 9 हजार से ज्यादा भर्तियां शामिल हैं, जिसके लिए अक्तूबर में परीक्षा कराने का एलान भी किया जा चुका है। यही नहीं 2011 की 4 हजार से ज्यादा शिक्षकों की भर्ती कब होगी, इस पर भी अभी संदेह बरकरार है।

 

बीजेपी सरकार आने के बाद से सारे काम ठप

दरअसल उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के गठन के बाद से ही माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में काम ठप पड़े हैं। सरकार के निर्देश पर चयन बोर्ड में भर्ती से जुड़े परिणाम, साक्षात्कार रोक दिए गए हैं। इसी वजह से 18 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों के सामने गंभीर संकट खड़ा हो गया है। इसे लेकर धरना-प्रदर्शन कई दिनों से धरना प्रदर्शन भी चल रहा है। अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्रयोगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री और माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा से लेकर इलाहाबाद आने वाले उच्चाधिकारियों का घेराव भी किया और इनसे लखनऊ में मुलाकात भी की। फिर भी अभी तक भर्ती प्रक्रिया न शुरू होने पर कुछ अभ्यर्थी कोर्ट पहुंचे तो सरकार ने रोक से इनकार कर दिया।

 

यह भी पढ़ें: शिक्षा मित्र क्या अब TET पास छात्रों को भी नौकरी मिलनामुश्किल, सरकार ने दिया बहुत बड़ा झटका!


जुलाई में आया TGT-PGT 2011 का रिजल्ट

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से रोक लगाने से इंकार करने के बाद जुलाई में तत्कालीन चेयरमैन हीरा लाल गुप्ता ने 2011 TGT के विज्ञान, हिंदी और संस्कृत और PGT बॉटनी, मनोविज्ञान, नागरिक शास्त्र, इतिहास एवं कॉमर्स का रिजल्ट घोषित कर दिया। इसी के साथ 2016 TGT-PGT की परीक्षा अक्तूबर में कराने की घोषणा भी कर दी। इस परीक्षा के लिए आवेदन करने वालों की संख्या 12 लाख से ज्यादा है, जबकि 2011 की TGT-PGT परीक्षा में भी छह लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हुए थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned