UP में Corona संक्रमण से मिल रही राहत; योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ WHO

यूपी की अब तक की बड़ी खबरें।

लखनऊ. पत्रिका उत्तर प्रदेश का सभी पाठकों को सुबह सुबह का नमस्कार। आप सभी स्वस्थ्य रहें। खुश रहें। आपका दिन शुभ हो। दिन की शुरुआत से पहले आइए जान लेते हैं यूपी की आज की प्रमुख खबरें।

जेल में कोरोना न फैले इसलिए आरोपी को सीमित अवधि के लिए मिले जमानत- इलाहाबाद हाईकोर्ट

कोरोना संक्रमण (Corona Virus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने दाखिल किए गए जमानत अर्जी पर अहम फैसला सुनाया है। कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि जेलों में भीड़भाड़ से आरोपी के जीवन को खतरा हो सकता है इसलिए वर्तमान में सीमित अवधि के लिए उसे अग्रिम जमानत देना (Bail Grant) उचित है। अदालत ने कहा कि इसके पीछे का उद्देश्य यह है कि ऐसा करने से जेल में कोरोना वायरस न फैल सके। दरअसल जस्टिस सिद्धार्थ ने गाजियाबाद के रहने वाले प्रतीक जैन की अग्रिम जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए यह बात कही। याचिकाकर्ता धोखाधड़ी के एक मामले में आरोपी है। अदालत ने कहा कि वो गिरफ्तार किया जाता है तो उसे तीन जनवरी, 2022 तक अग्रिम जमानत दी जाए। कोर्ट ने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में जेलों में भीड़भाड़ रोकने के निर्देश दिये हैं, ऐसे में इस निर्देश की अनदेखी कर जेलों में भीड़ बढ़ाने का निर्देश नहीं दिया जा सकता।

जब सीएम योगी ने अचानक AMU के कुलपति को किया फोन, हर संभव मदद का दिया भरोसा

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ जिले में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Infection) का कहर सबसे ज्यादा अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) में देखने को मिल रहा है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने मंगलवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति से फोन पर बातचीत कर विश्वविद्यालय के मेडिकल काॅलेज में भर्ती मरीजों तथा वहां कार्यरत चिकित्सकों एवं अन्य कार्मिकों का हालचाल जाना। सीएम योगी ने कहा कि विश्वविद्यालय के परिसर में बड़ी संख्या में लोग रहते हैं। इन्हें कोविड संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए सभी उपाय किये जाना आवश्यक है। कोरोना संक्रमण से बचाव में टीकाकरण की महत्वपूर्ण भूमिका है। वर्तमान में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग का टीकाकरण भी प्रारम्भ हो गया है। उन्होंने कुलपति से लक्षित आयु वर्ग के लिए तत्परतापूर्वक टीकाकरण कराये जाने की अपेक्षा करते हुए कहा कि इस कार्य में प्रदेश सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाएगा।

कोरोना मरीजों के लिए जानलेवा ब्लैक फंगस की UP में दस्तक, मेरठ के बाद लखनऊ में मिले 3 केस

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में कोरोना संक्रमित 3 मरीज घातक ब्लैक फंगस (Black Fungus) यानी म्यूकरमाइकोसिस (Mucormycosis) की चपेट में आ गए हैं। लख्ननऊ के प्रतिष्ठित किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) में इन तीनों मरीजों में म्यूकरमाइकोसिस होने की पुष्टि की गई है। केजीएमयू के मेडिसिन डिपार्टमेंट में इनका इलाज चल रहा है। बता दें कोरोना के मरीजों में ब्लैक फंगस के होने की शिकायत मिल रही थी। अब केजीएमयू ने आधिकारिक तौर से मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि की है। बता दें इससे पहले मेरठ में भी ब्लैक फंगस से पीड़ित दो कोविड मरीज़ मिले हैं। दोनों मरीज मुज़फ्फरनगर और बिजनौर के रहने वाले हैं। दोनों मरीजों का इलाज मेरठ के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। अस्पताल के डॉक्टर संदीप गर्ग ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मरीज स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है।

योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ WHO, ग्रामीण इलाकों में अभियान की सराहना

योगी सरकार (Yogi Government) के कोविड प्रबंधन (COVID-19 Management) पर एक बार फिर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) ने मुहर लगा दी है। ग्रामीण इलाकों में राज्‍य सरकार के कोरोना के माइक्रो मैनेजमेंट का डब्‍ल्‍यूएचओ भी कायल‍ है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने अपनी वेबसाइट पर यूपी सरकार के कोविड प्रबंधन की खुलकर तारीफ की है। डब्‍ल्‍यूएचओ ने यूपी के ग्रामीण इलाकों में कोरोना को रोकने के लिए चलाए जा रहे महा अभियान की चर्चा करते हुए अपनी रिपोर्ट में बताया है कि राज्‍य सरकार ने किस तरह से 75 जिलों के 97941 गांवों में घर-घर संपर्क कर कोरोना की जांच करने के साथ आइसोलेशन और मेडिकल किट की सुविधा उपलब्‍ध कराई। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने योगी सरकार के कोविड मैनेजमेंट को धरातल पर परखने के लिए यूपी के ग्रामीण इलाकों में 10 हजार घरों का दौरा किया। डब्‍ल्‍यूएचओ की टीम ने खुद गांवों में कोविड मैनेजमेंट का हाल जाना। कोरोना मरीजों से उनको मिल रही चिकित्‍सीय सुविधाओं के बारे में पूछताछ की। इतना ही नहीं विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के विशेषज्ञों ने फील्‍ड में काम कर रही 2 हजार सरकारी टीमों के काम काज की गहन समीक्षा भी की है।

UP में Corona संक्रमण से मिल रही राहत, 24 घंटे में 20,463 नए मामले, 306 की मौत

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Corona) संक्रमण कुछ कम होता नजर आ रहा है। पिछले 24 घंटों पर नजर डाली जाए तो 20,463 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 306 लोगों ने इस महामारी के आगे दम तोड़ दिया है। अब सक्रिय मामलों की संख्या 2,16,057 हो गई है। एक दिन में करीब 29,358 कोरोना संक्रमण से जंग जीत कर अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए हैं। राजधानी लखनऊ में पिछले 24 घंटे में 1154 नए संक्रमित, 3229 मरीज डिस्चार्ज होकर घर जा चुके है, जबकि 23 लोगों की मौत हो गई। बता दें कि प्रदेश में सोमवार से 18 से 45 साल के लोगों का वैक्सीनेशन 18 जनपदों में विस्तारित कर दिया गया है। इससे पहले यह 7 जनपदों में चल रहा था। अब तक 1,09,39,775 लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है। वहीं 27,85,013 लोगों ने वैक्सीन की दूसरी डोज ली है।

यह भी पढ़ें: UP DElEd Admission 2021: यूपी डीएलएड में अब लिखित परीक्षा से मिलेगा एडमिशन

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned