उत्तर प्रदेश को देश का पहला टी0बी0 मुक्त राज्य बनाने का लक्ष्य -- राज्यपाल

जागरूकता लाकर पात्रों को इस सुविधा का लाभ दिलाने में सहयोग प्रदान करेंगे।

लखनऊः उत्तर प्रदेश की राज्यपाल तथा इण्डियन रेडक्रास सोसाइटी की उत्तर प्रदेश शाखा की अध्यक्ष आनंदीबेन पटेल का इण्डियन रेडक्रास सोसाइटी की उत्तर प्रदेश शाखा द्वारा कैसरबाग स्थित रेडक्रास भवन के सभागार में स्वागत एवं अभिनन्दन किया गया। स्वागत समारोह में राज्यपाल को शाॅल एवं पुस्तक देकर सम्मानित किया गया।

राज्यपाल ने अभिनन्दन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इण्डियन रेडक्रास का उद््देश्य मानव सेवा तथा असहाय लोगों की सहायता करना है। उन्होंने कहा कि रेडक्रास के सदस्यों का पीड़ित मानवता की सेवा करना तथा दूसरों को इसके लिये प्रोत्साहित करना ही मकसद है। उन्होंने कहा कि मैं जिस जिले में जाती हूँ, वहां रेडक्रास की मीटिंग करती हूँ तथा 18 वर्ष से कम उम्र के टी0बी0 मरीजों को गोद लेने के लिये प्रेरित करती हूँ। अब तक 6 हजार टी0बी0 मरीजों को विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं संस्थाओं द्वारा गोद लिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों का भ्रमण कर टी0बी0 मरीजों का पता लगाकर उत्तर प्रदेश को देश का पहला टी0बी0 मुक्त राज्य बनाने का मेरा लक्ष्य है।


आनंदीबेन पटेल ने कहा कि रेडक्रास सोसाइटी को राजनैतिक अड्डा नहीं बनने देना चाहिए। इसे केवल अपने उद्देश्यों की पूर्ति तक ही सीमित रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि रेडक्रास सोसाइटी द्वारा प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित लोगों एवं मरीजों के लिये एम्बुलेन्स सेवा उपलब्ध कराना तथा बच्चों के लिये टीकाकरण आदि के अनेक कार्यक्रम किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सोसाइटी के सदस्यगण नैतिक मूल्यों का पालन करते हुए समाज के सभी वर्गों विशेषकर निर्धन और असहाय लोगों का विशेष ध्यान रखेंगे तथा गांवों में आयुष्मान योजना की सुविधा के संबंध में जागरूकता लाकर पात्रों को इस सुविधा का लाभ दिलाने में सहयोग प्रदान करेंगे।

Ritesh Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned