उत्तर प्रदेश की अब तक की 10 बड़ी खबरें, जो बनीं अखबारों की सुर्खियां

आज के अखबारों में छपी 10 बड़ी खबरें, यहां पढ़ें कहां क्या हुआ...

लखनऊ. गुरुवार, 28 मई, 2020 को राजधानी लखनऊ से प्रकाशित विभिन्न समाचार-पत्रों में यह अहम सुर्खियां छाई हुई हैं।

यूपी में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा पहुंचा 7 हजार के पास, 182 लोग गंवा चुके जान

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा। बीते चौबीस घंटे में कुल 261 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। राज्य में अब तक 6991 लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। प्रदेश में बुधवार को 167 और मरीजों के स्वस्थ होने के बाद अब तक 3991 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं जबकि 2818 लोगों का इलाज चल रहा है। राज्य में कोरोना वायरस ने बुधवार को पांच और लोगों की जान ले ली। अब तक कुल 182 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें मेरठ, गाजियाबाद, अलीगढ़, गोरखपुर और मुजफ्फरनगर में एक-एक मरीज शामिल हैं।

लोहिया की इमरजेंसी में डॉक्टर बढ़ाएं : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को लोहिया संस्थान के हॉस्पिटल ब्लॉक की इमरजेंसी का जायजा लिया। उन्होंने इमरजेंसी में डॉक्टरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए जिससे कम समय में ज्यादा मरीज देखे जा सकें। सुबह करीब 10:30 बजे मुख्यमंत्री लोहिया हॉस्पिटल ब्लॉक पहुंचे। सबसे पहले वे स्त्री रोग विभाग की इमरजेंसी में पहुंचे। यहां इलाज की व्यवस्थाएं देखीं। इमरजेंसी के बाहर तीमारदारों की भीड़ लगी थी। उन्होंने संस्थान के अफसरों को भीड़ पर नियंत्रण के निर्देश दिए।

उद्यमियों ने सरकार से मांगे पांच लाख श्रमिक : योगी

यूपी लौटे प्रवासी मजदूरों, श्रमिकों को रोजगार देने की दिशा में काम शुरू हो गया है। यूपी सरकार के स्किल मैपिंग डेटा बैंक से पांच लाख श्रमिकों और कामगारों की मांग उद्योगों से आई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ टीम-11 की बैठक में यह जानकारी दी गई। इसके साथ ही यूपी में श्रमिकों, कामगारों और युवाओं के उद्योगों में सेवायोजन की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

बड़ी परियोजनाओं में सभी विभाग तेजी लाएं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी विभागों की जरूरी और महत्वपूर्ण निर्माण परियोजनाओं को निरंतर जारी रखने का निर्देश दिया है। काम रुकने से लागत बढ़ जाती है और जनता को समय से इनका लाभ नहीं मिल पाता है। मुख्यमंत्री बुधवार की रात अपने सरकारी आवास पर 25 करोड़ रुपये से अधिक लागत की परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।

निर्यात बढ़ाने के लिए एसईजेड बनेंगे

यूपी से निर्यात बढ़ाने के लिए निवेशकों व उत्पादकों की सुविधा के लिए क्लस्टर आधारित एसईजेड बनाए जाएंगे। निर्यात नीति पर अमल के लिए नियमावली भी बनेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना कि राज्य विभिन्न उत्पादों के निर्माण में आत्म निर्भर ही नहीं होगा बल्कि निर्यात बढ़ा कर आयात पर निर्भरता कम करेगा।

सीएम ने दिए डीएम, एसपी से रोज संवाद के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नियमित संवाद व संपर्क के माध्यम से प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि लॉक डाउन को सफल बनाए रखने के लिए मुख्य सचिव व डीजीपी सभी जिलाधिकारियों के अलावा पुलिस कमिश्नर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व पुलिस अधीक्षक से नियमित संवाद करें।

अध्यक्षों को 2000 रुपये महीना इंटरनेट भत्ता

विभागों, निगमों, उपक्रमों, परिषदों, आयोगों तथा संस्थाओं में तैनात गैर सरकारी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष तथा सलाहकारों को अब हर महीने टेलीफोन अथवा मोबाइल पर ब्राडबैंड व इंटरनेट के लिए दो हजार महीना मिलेगा। यह धनराशि इस तर्क पर स्वीकृत किया गया है कि ताकि सूचनाएं जल्द मिल सकें। कई अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य तथा सलाहकारों ने सरकार से यह सुविधा दिए जाने की मांग की थी।

श्रमिक की मौत पर नोटिस जारी

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव को नोटिसी जारी किया है। यह नोटिस सहारनपुर में श्रमिक की मौत के मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए जारी किया है। आयोग ने कहा है कि सहारनपुर में हुई 19 वर्ष के श्रमिक की मौत मानवाधिकारों का उल्लंघन है। वह लुधियाना से पैदल चल कर हरदोई जा रहा था। आयोग ने सरकार द्वारा किए गए इंतजामों का जमीनी स्तर तक न पहुंचने की भी बात कही है।

सुविधा: छूटी बोर्ड परीक्षा कहीं भी दे सकेंगे छात्र

सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं की बची हुई परीक्षाओं को लेकर छात्रों को एक और राहत देने का फैसला किया है। बची हुई बोर्ड परीक्षाएं एक से 15 जुलाई के बीच होनी हैं लेकिन जो छात्र इस बीच दूसरे जिलों में चल गए हैं, उन्हें नजदीक में ही परीक्षा केंद्र उपलब्ध कराया जाएगा। परीक्षार्थियों को सलाह दी गई है कि वे अपने स्कूलों के संपर्क में रहें और जैसे ही सीबीएसई अधिसूचना जारी करे, इस संबंध में अपना आवेदन दर्ज कराएं।

झांसी और सोनभद्र में पाकिस्तानी टिड्डियों का हमला

राजस्थान एवं मध्य प्रदेश में तबाही मचा रहे टिड्डियों के दो अलग-अलग दलों ने प्रदेश के सीमावर्ती दो जिलों झांसी एवं सोनभद्र के बाहरी इलाकों पर हमला बोल दिया है। मध्य प्रदेश की ओर से आई इन टिड्डियों को नष्ट करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई। टिड्डी दल के संभावित हमले को देखते हुए स्थानीय प्रशासन हाई अलर्ट पर है। कृषि विभाग ने आठों ब्लाकों में अपनी तैयारी पूरी कर ली है।

यह भी पढ़ें: प्राइवेट और सरकारी...12वीं तक सबकी स्कूल फीस होगी माफ!

coronavirus Narendra Modi
Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned