कोरोना पीड़ितों के लिए योगी कैबिनेट में बड़ा फैसला पास, दो अप्रैल तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद, धरना-प्रदर्शनों पर रोक

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में हुई बैठक में पांच अहम प्रस्तावों पर मुहर लग गई

By: Hariom Dwivedi

Updated: 17 Mar 2020, 01:45 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में हुई बैठक में पांच अहम प्रस्तावों पर मुहर लग गई। इनमें सरकार ने सबसे बड़ा फैसला कोरोना वायरस को लेकर लिया है। कोरोना वायरस से पीड़ितों के लिए योगी सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि सरकार अब कोरोना से पीड़ितों का इलाज मुफ्त कराएगी। इसके अलावा कैबिनेट में सरकारी कर्मचारियों के लिए घर से काम करने का प्रस्ताव भी पास कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में सभी तरह के धरना-प्रदर्शनों पर रोक लगा दी गई है। 31 मार्च तक यूपी के सभी पर्यटक स्थल बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में सभी स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिये गये हैं। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है। सरकार कोरोना से निपटने के लिए हर संभव कदम उठा रही है।

स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद
भी स्कूल- कॉलेज 2 अप्रैल तक बंद। यूपी बोर्ड व राज्य की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को स्थगित किया गया। मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघर भी 2 अप्रैल तक बन्द रहेंगे। वहीं, पर्यटन स्थलों 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है यह सिर्फ साफ सफाई के लिए ही खुलेंगे।

अन्य प्रस्ताव
- तानाजी को एसजीएसटी से से मुक्त करने का प्रस्ताव हुआ पास
- खनिज नियमावली 2020 में संशोधन का प्रस्ताव हुआ पास
- उत्तर प्रदेश में किसी भी तरह के धरना-प्रदर्शनों पर रोक लगा दी गई है
- सरकारी कर्मचारियों के लिए बनाई गई नई कमेटी। घर से काम करने का प्रस्ताव पास

Corona virus Corona Virus Precautions
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned