नौकर ने कारोबारी की पत्नी को बंधक बना लूटे 60 लाख

15 दिन पहले घर में कामकाज के लिए रखे नौकर ने कारोबारी की पत्नी को बंधक बनाकर 60 लाख रुपए लूट लिए। जानकारी के अनुसार बाड़ेवाल रोड स्थित पंचशील एनक्लेव में रहने वाले होजरी कारोबारी की पत्नी को बंधक बनाकर साठ लाख रुपये लूट लिए।

 

 

By: Yogendra Yogi

Published: 14 Nov 2019, 06:26 PM IST

लुधियाना(धीरज शर्मा): 15 दिन पहले घर में कामकाज के लिए रखे नौकर (House Servent Loot ) ने कारोबारी की पत्नी को बंधक बनाकर 60 लाख रुपए ( Sixty Lakh ) लूट लिए। जानकारी के अनुसार बाड़ेवाल रोड स्थित पंचशील एनक्लेव में रहने वाले होजरी कारोबारी की पत्नी को बंधक बनाकर साठ लाख रुपये लूट लिए।

दो लोगों को किया शामिल
आरोपी ने अपने दो साथियों ( With Two others ) को घर बुलाकर दिनदहाड़े वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों ने महिला से मारपीट की और बेड से बांधकर घर में पड़ी तीस लाख की नकदी, 25 लाख के जेवरात, मोबाइल और लैपटॉप लूटकर फरार हो गए। घटना का पता उस समय चला जब होजरी कारोबारी का बेटा राघव स्कूल से घर आया। मां को बंधा देख उसने तुरंत रस्सी खोली और इसकी जानकारी पिता को दी। पुलिस ने इस मामले में नौकर राजू और उसके दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस आरोपियों की तलाश में है।

पुलिस ने की नाकाबंदी
मौके का मुआयना कर पुलिस ने बताया कि हमने चारों तरफ नाकेबंदी कर ली है आरोपियों की तलाश जारी है होजरी कारोबारी राकेश के मुताबिक उनका घरेलू नौकर करीब बीस दिन पहले गांव चला गया। उन्होंने किसी व्यक्ति के जरिए करीब 15 दिन पहले राजू को काम पर रख लिया। राजू ने पूरे घर की रेकी के बाद वारदात को अंजाम दिया। सुबह बच्चे स्कूल चले जाते थे और राकेश अपनी फैक्ट्री में चले जाते थे। पत्नी सोनिया अक्सर घर में अकेली ही होती थीं।

पहचान पत्र नहीं है
बुधवार को बच्चे स्कूल चले गए और राकेश फैक्ट्री। करीब 11 बजे आरोपी राजू ने अपने दो साथियों को घर बुला लिया। तीनों ने मिलकर सोनिया को बेड से बांध (Tied with Bed) दिया और उनसे मारपीट ( Man Handling ) कर घर की नकदी व जेवर के बारे में जानकारी हासिल की। आरोपियों ने करीब डेढ़े घंटे तक घर का कोना-कोना खंगाला। वे करीब 30 लाख रुपये नकद, जेवरात, मोबाइल फोन और लैपटॉप व अन्य सामान लेकर फरार हो गए। नौकर इतना शातिर था कि 15 दिन बाद भी उसने राकेश के बार-बार पहचान पत्र (No Identification) मांगने पर पहचान पत्र नहीं दिया। राकेश और उसके परिजनों के पास राजू का न तो कोई पहचान पत्र है और न ही फोटो। अब पुलिस घर के बाहर और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालने में जुटी है ताकि आरोपी राजू और उसके साथियों के बारे में कोई सुराग मिल सके। थाना सराभा नगर की एसएचओ सब इंस्पेक्टर मधुबाला ने बताया कि राजू और उसके दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned