फायर सेफ्टी मैनेजमेंट कोर्स से मिलेगी मोटे पैकेज वाली जॉब्स

हर स्टूडेंट का सपना होता है कि वह पढ़ाई के साथ ही कोई ऐसा कोर्स करें जिसमें कि जॉब श्योरिटी के साथ ही आगे बढ़ने के मौके तथा अच्छा पैकेज भी मिले।

हर स्टूडेंट का सपना होता है कि वह पढ़ाई के साथ ही कोई ऐसा कोर्स करें जिसमें कि जॉब श्योरिटी के साथ ही आगे बढ़ने के मौके तथा अच्छा पैकेज भी मिले। हालांकि गाइडेंस के अभाव में बहुत से छात्र अपने सपने को पूरा नहीं कर पाते। वहीं वर्तमान और भविष्य की डिमांड को देखते हुए स्टूडेंट्स द्वारा फायर टेक्नोलॉजी एंड सेफ्टी का कोर्स किया जा सकता है। चार वर्षीय डिग्री कोर्स के बाद सरकारी व निजी उपक्रमों के साथ ही योग्य उम्मीदवार को विदेश में भी अच्छे पैकेज पर नौकरी मिल सकती है।

सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस के अनुसार हर सेक्टर में फायर मैनेजमेंट व फायर सेफ्टी की नियुक्ति आवश्यक है। एक्सपर्ट्स के अनुसार भारत और विदेशों में फायर सेफ्टी ऑफिसर की मांग अधिक है और कोर्स करने वाले स्टूडेंट्स की संख्या बहुत कम है।

ये हो सकते हैं प्रमुख क्षेत्र
एक्सपर्ट्स के अनुसार जिन क्षेत्रों में फायर सेफ्टी ऑफिसर्स की अधिकतम डिमांड है, उनमें रेलवे, एयरपोर्ट, डिफेंस, इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड्स, ओएनजीसी, माइन्स, रिफाइनरीज, पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन, मल्टीटाउनशिप, सेफ्टी एंड क्राइसिस मैनेजमेंट, डिपार्टमेंटल स्टोरी हैं।

शुरू कर सकते हैं नए स्टार्टअप
वर्तमान में देश में नए उद्योग आरंभ करने के लिए अनुकूल माहौल बन रहा है, साथ ही विदेशी कंपनियां भी भारत में अपने प्रोजेक्ट स्टार्ट करने की उत्सुक हैं। इससे आने वाले समय में देश में कई नए इंडस्ट्रीज डवलप होंगी जिससे फायर सेफ्टी एक्सपर्ट्स की मांग बढ़ेगी और इस क्षेत्र से जुड़े स्टूडेंट्स भी अपना नया स्टार्टअप शुरू कर सकेंगे।

Show More
सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned