अगले साल से विद्यार्थियों,कर्मचारियों को सिक्कम में मिलेंगी अधिक छुट्टियां

Jameel Khan

Publish: Oct, 12 2017 09:45:13 PM (IST)

मैनेजमेंट मंत्र
अगले साल से विद्यार्थियों,कर्मचारियों को सिक्कम में मिलेंगी अधिक छुट्टियां

सरकारी की ओर से जारी आधिकारिक अधिसूचना में कहा गया है कि अगले कैलेंडर वर्ष में 4 सीमित छुट्टियों सहित कुल 43 सार्वजनिक छुट्टियां होंगी।

गैंगटॉक। सिक्किम में विद्यार्थियों और राज्य कर्मचारियों के लिए खुश खबरी है। अगले साल से इन्हें 4 सीमित छुट्टियों सहित 43 अतिरिक्त सार्वजनिक छुट्टियां मिलेंगी। सरकारी की ओर से जारी आधिकारिक अधिसूचना में कहा गया है कि अगले कैलेंडर वर्ष में 4 सीमित छुट्टियों सहित कुल 43 सार्वजनिक छुट्टियां होंगी। हालांकि, प्रदेश के कर्मचारी इन चार छुट्टियों में से केवल छुट्टी ही ले पाएंगे।

सरकारी अधिसूचना के अनुसार, सिक्किम सरकार को इस बात की घोषणा करने में खुशी हो रही है कि अगले साल से ४३ दिनों को सार्वजनिक छुट्टियों के रूप में मनाया जाएगा। हालांकि , ये छुट्टियों प्रदेश सरकार के अधीन आने वाले सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थानों पर ही लागू होंगी। वर्ष 2017 के कैलेंडर में 37 छुट्टियां हैं।

ये होंगी सीमित छुट्टियां
अगले साल प्रदेश में जो सीमित छुट्टियां लागू होंगी वे हैं श्रम दिवस (1 मई), नेपाल के महान पर्वतारोही स्व. तेंजिंग नोर्गे शेर्पा का जन्मदिन (29 मई), तिब्बत के आध्यातमिक गुरू दलाई लामा का जन्मदिन (6 जुलाई) और छट्ट पूजा (13 नवंबर)। 43 छुट्टियों में से पांच तो रविवार को पड़ेंगी। सिक्कत में कर्मचारी हफ्ते में छह दिन कार्यालय आते हैं।

 

बीएचयू के कुलपति अनिश्चितकाल के लिए छुट्टी पर गए
वाराणसी। बीएचयू के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी निजी कारणों का हवाला देते हुए छुट्टी पर चले गए हैं। त्रिपाठी को विश्वविद्यालय परिसर में पिछले महीने प्रर्दशनकारी छात्राओं पर लाठीचार्ज और हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।

बीएचयू के सूत्रों ने बताया कि त्रिपाठी का कार्यकाल अगले महीने खत्म हो रहा है, और वह निजी कारणों से अनिश्चितकाल के लिए छुट्टी पर चले गए हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने नए कुलपति के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

इससे पहले कुलपति ने कहा था कि अगर उन्हें छुट्टी पर जाने के लिए कहा जाएगा तो वह अपना पद छोड़ देंगे। बीएचयू के मुख्य प्रॉक्टर ओ. एन. सिंह ने परिसर में ङ्क्षहसा की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पिछले सप्ताह अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

वाराणसी के आयुक्त ने भी अपनी रपट में बीएचयू परिसर में प्रर्दशन कर रहीं छात्राओं पर लाठीचार्ज के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया था। राज्य में विपक्षी पार्टियों ने भी कुलपति को बर्खास्त करने की मांग की थी। बीएचयू प्रशासन ने घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। यह जांच इलाहाबाद के सेवानिवृत्त न्यायधीश वी. के. दीक्षित की अध्यक्षता वाली टीम करेगी।

 

Ad Block is Banned