भाजपा ने धरना देकर कांग्रेस को कोसा

भाजपा ने धरना देकर कांग्रेस को कोसा

harinath dwivedi | Publish: Sep, 05 2018 01:27:16 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India

भाजपा ने धरना देकर कांग्रेस को कोसा, राज्यपाल के नाम ज्ञापन


मंदसौर.
सीएम पर हुए हमले के विरोध में मंगलवार को भाजपा ने करीब दो घंटे धरना दिया। एट्रोसिटी को लेकर बढ़ते विरोध के बीच चुरहट में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के रथ पर हुए पथवरा व सीधी में सीएम पर फेंकी गई चप्पल की घटना के विरोध में भाजपा सडक़ों पर उतरी और जिला मुख्यालय धरना देकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। इस दौरान भाजपा के सभी वक्ताओं ने हमला सीएम की लोकप्रियता और जनआशीर्वाद यात्रा को मिल रहे समर्थन को देख कांग्रे की बोखलाहट बताते हुए कांग्रेस को कोसा।


एसडीएम को दिया ज्ञापन
2 घंटे से अधिक समय तक चले धरने के बाद भाजपाईयों ने एसडीएम को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें सीएम के रथ व सीएम पर हमला करने जैसी घटनाओं को वारदात करने वाले तथा इनके साथ के लोगों को चिंहित कर उन पर कठोर कार्रवाई की जाए। जनआशीर्वाद यात्रा के बीच प्रदेश में शुरु हुए एट्रोसिट एक्ट के विरोध के दौर के बीच सीएम के यात्रा के रथ के साथ ही सीधे उन पर भी हमला हुआ। इसके बाद भाजपा ने धरना देकर इस घटना का विरोध करते हुए इसे कांग्रेस की साजिश बताया और सत्ता प्राप्ति के लिए प्रदेश में भ्रम फैलाने व अशांति फैलाने का आरोप भी कांग्रेस पर लगाया।


बड़े नेता उज्जैन बैठक में, स्थानीय ने दिया धरना
सीएम पर हुए हमले के विरोध में स्थानीय नेताओं ने धरना दिया। जिलाध्यक्ष सहित जिले के विधायक व दिग्गज नेता तो उज्जैन में पार्टी की बैठक में भाग लेने पहुंचे। शहर में धरना स्थानीय व मंडल के पदाधिकारियों व विभिन्न मोर्चा व प्रकोष्ठों के साथ नपा के जनप्रतिनिधियों ने दिया। इसमें महज 50 से 60 लोगों ने मिलकर ही 2 घंटे से अधिक समय धरना देकर ज्ञापन दिया। इसमें नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार, उपाध्यक्ष सुनील जैन, सभापति पुलकित पटवा, मंडल अध्यक्ष नरेश चंदवानी, नरेंद्र पाटीदार, आशीष गौड़, निर्मला गुप्ता, शांतिलाल मालवीय, पारस महावर, मीनू मंसूरी के साथ ही अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

Ad Block is Banned