एक और चल रही थी नियमों की पाठशाला, दूसरी और लापरवाही में रौदें जा रहे नियम

एक और चल रही थी नियमों की पाठशाला, दूसरी और लापरवाही में रौदें जा रहे नियम

harinath dwivedi | Publish: Sep, 05 2018 01:44:44 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India

एक और चल रही थी नियमों की पाठशाला, दूसरी और लापरवाही में रौदें जा रहे नियम


मंदसौर.
शहर में यातायात सप्ताह का शुभारंभ गरिमामय आयोजन के साथ हुई। एक और तो युवा विद्यार्थियों को ट्रैफिक के नियमों का पाठ पढ़ाया जा रहा था। उसी दौरान शहर में युवा ही खुलेआम इन्हीं नियमों को वाहनों के तले रौंदते हुए गुजर रहे थे। शहर में हर दिन की यही कहानी है। सुरक्षा के लिए बने तमाम नियमों का मखौल उड़ाते हुए शहर की सडक़ों पर एक नहीं अनेक वाहन दौड़ रहे है। बावजूद ट्रैफिक अमला न तो इन्हें टोकता है और न हीं इन पर कार्रवाई कर पाता है। अनदेखी और लापरवाही के कारण मनमानी का दौर जारी है।
यातायात सप्ताह का हुआ शुभारंभ
संजय गांधी उद्यान में मंगलवार को यातायात सप्ताह का शुभारंभ हुआ। इसमें न्यायाधीश टीके सिंह, कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव, एसपी मनोजकुमार सिंह, एएसपी सुंदरसिंह कनेश के साथ ही प्रशासन-पुलिस के साथ ही स्कूल व कॉलेज के विद्यार्थी मौजूद थे। सभी ने इन युवा विद्यार्थियों को यातायात के नियमों का पाठ पढ़ाया और ट्रैफिक के नियमों को तोडऩे से होने वाले कानूनी कार्रवाई की जानकारी दी। प्रेशर हॉर्न और रफ्तार पर नहीं किसी की रोक
शाम 6 बजे से लेकर रात 9 बजे तक शहर की सडक़ों पर बाइकर्स का बोलबाला रहता है। शहर के हर एक प्रमुख मार्ग से रहवासी इलाको से लेकर चौराहों पर शाम से लेकर रात तक बाइकर्स तेज रफ्तार में रेस लगाते हुए वाहन दौड़ते है। इससे लोगों को परेशानी होती है। इतना ही नहीं इन वाहनों में लगे प्रेशर हॉर्न भी लोगों की मुसीबत का कारण है। लेकिन शहर में न तो कोई बाइकर्स पर रोक लगा पा रहा है और न हीं इनके वाहनों में लगे प्रेशर हॉर्न की आवाज जवाबदारों के कानो तक पहुंच रही है। जो शहरवासी के लिए मुसीबत बने हुए है।
शहर की सडक़ों पर ऐसे दौड़ रहे वाहन
शहर की प्रमुख सडक़ों पर हर दिन वाहन चालक ट्रैफिक के लिए बने नियमों को रौंदते हुए चल रहे है। बावजूद यह जवाबदारों की निगाहों से हमेशा बचकर निकल जाते है। एक और ट्रैफिक के सुधार के लिए बड़े अभियान चलाए जाते है, लेकिन इस प्रकार शहर की सडक़ो पर बेरोकटोक दौड़ रहे बाइकर्स हमेशा कार्रवाई से बचे हुए रहते है। एक बाईक पर चार बैठकर गुजरना आम बात हो गई है। शहर के गांधी चौराहा, बीपीएल चौराहा, नाहटा चौराहा, बस स्टैंड क्षेत्र, महाराणा प्रताप बस स्टैंड से लेकर हाईवे को जोडऩे वाले तमाम मुख्य मार्गों पर ऐसे नजार हर दिन देखे जा रहे है। स्कूल से लेकर कॉलेज के विद्यार्थी वाहनों पर चलने के साथ तमाम ट्रैफिक नियमों को तोड़ते हुए गुजर रहे है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned