VIDEO # खेल मैदान बचाओ समिति ने गड्ढें में बैठकर दिया धरना, की नारेबाजी

VIDEO # खेल मैदान बचाओ समिति ने गड्ढें में बैठकर दिया धरना, की नारेबाजी

Jagdish Vasuniya | Publish: Feb, 24 2019 07:45:37 PM (IST) | Updated: Feb, 24 2019 07:45:38 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

खेल मैदान बचाओ समिति ने गड्ढें में बैठकर दिया धरना, की नारेबाजी

मंदसौर । शहर के उत्कृष्ठ विद्यालय के खेल मैदान को बचाने शुरु हुआ विरोध प्रदर्शन का दौर रविवार को भी नहीं रुका। हॉस्टल के निर्माण को रुकवाते हुए मैदान को बचाने के लिए संगठनों ने विरोध शुरु किया है। मैदान में निर्माण के लिए खोद गए गड्ढों में उतरकर इनमें बैठकर इन संगठनों के पदाधिकारियों ने रविवार को धरना दिया और निर्माण को यहां नहीं करते हुए अन्य जगह करने और इस मैदान को खेलों के लिए सुरक्षित रखने की मांग की। इसे लेकर लोगों ने धरने के दौरान नारेबाजी की। खेल मैदान में हॉस्टल निर्माण का काम अभी कुछ दिनों के लिए भले ही रुका हुआ हो, लेकिन यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है।
आज गांधी चौराहें पर खेलकर करेंगे प्रदर्शन
खेल मैदान बचाओ समिति के साथ ही विभिन्न खेलों के कोच व खिलाड़ी इस मैदान को बचाने के लिए विरोध प्रदर्शन हर तरीके से कर रहे है। बावजूद अब तक हॉस्टल निर्माण का स्थान नहीं बदला गया है और यहां बड़े-बड़े गड्ढे खोद दिए गए है। रविवार को तो यहां धरना प्रदर्शन हुआ, लेकिन अब यह खिलाड़ी सोमवार को अनोखे तरीके से प्रदर्शन करेंगे। समिति के विनय दुबेला सहित अन्य पदाधिकारियों ने बताया कि खिलाडिय़ों व शहर के आम लोगों के खेलने के लिए मैदान तो नहीं बचा है, और हॉस्टल निर्माण के साथ इस मैदान को खत्म किया जा रहा है। ऐसे में शहर के मुख्य गांधी चौराहें पर ही विभिन्न खेल खेलकर विरोध प्रदर्शन करेंगे।
प्रभारी मंत्री तक पहुंचेगा मामला
खेल मैदान का मामला अब प्रभारी मंत्री हुकुमसिंह कराड़ा तक पहुंच गया है। एक दिन पहले कांग्रेसी नेता कलेक्टर से इस मामले में मिलने पहुंचे थे। इसके बाद काम रुक तो गया लेकिन स्थान नहीं बदला।ऐसे में अब दौरे पर आ रहे कराड़ा के सामने कांग्रेस नेताओं ने यह मामला रख दिया है। कराड़ा शहर में आने के दौरान यहां पर विजीट करेंगे। और नेता तथा विरोध कर रहे पदाधिकारी उनके सामने अपनी बात रखेंगे। इसके बाद इस पर आगे का निर्णय होगा।इधर प्रभारी मंत्री से खेल मैदान के मामले में प्रशासनिक अधिकारियों के रवैए को लेकर भी शिकायत विभिन्न खेल संगठनों से लेकर कांग्रेस नेता करेंगे।
बढ़ते विरोध के बीच नहीं कोई निर्णय
इधर खेल मैदान के नाम पर पूरा शहर भले ही सडक़ों पर आ गया हो। प्रदेश की सत्तारुढ़ पार्टी कांग्रेस ने भी इसके लिए मोर्चाखोला तो अन्य संगठनों ने भी। इसके बाद भी प्रशासन ने सिर्फ काम रुकवाया है, लेकिन हॉस्टल के निर्माण को लेकर स्थान को बदलना तो ठीक बदलाव करने की सुगबुगाहट पर चर्चा भी शुरु नहीं की गई है। प्रभारी मंत्री के दौरे के कारण कुछ दिन काम रोका गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned