74 फीसदी भारतीय कर्मचारियों को रास आया 'वर्क फ्रॉम होम' विकल्प

माइक्रोसॉफ्ट वार्षिक वर्क ट्रेंड इंडेक्स से खुलासा ।
हमेशा के लिए बदल सकता है  वर्क-कल्चर।

By: विकास गुप्ता

Published: 11 Jun 2021, 06:01 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना महामारी ने जीवन जीने के तरीके के साथ वर्क-कल्चर में भी बड़ा बदलाव किया है। भारत में तीन चौथाई यानी 74 फीसदी कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम जैसी अधिक लचीली कार्य व्यवस्था चाहते हैं। यह खुलासा माइक्रोसॉफ्ट की पहली वार्षिक वर्क ट्रेंड इंडेक्स रिपोर्ट से हुआ है। यह रिपोर्ट 31 देशों में 30 हजार से अधिक कर्मचारियों पर अध्ययन करके तैयार की गई है। माइक्रोसॉफ्ट वार्षिक वर्क ट्रेंड इंडेक्स की रिपोर्ट में बताया गया है कि इसके लिए कंपनियों को कर्मचारियों के घर पर जरूरी उपकरण, लैपटॉप व अन्य सामान मुहैया कराना होगा।

अपने सहकर्मियों से मजबूत हुई बॉन्डिंग -
फरवरी 2020 की तुलना में 2021 में 150 फीसदी मीटिंग बढ़ीं। कंपनी की इंटरनल चैट 45 फीसदी ज्यादा हो रही है। 37 प्रतिशत ने अपने लिविंग रूम को ही वर्क रूम बनाया। ऐसे में कई बार सहकर्मियों से वर्चुअली परिवार को मिलाने का मौका भी मिला। ज्यादा कॉल्स की वजह से सहकर्मियों को अधिक जानने का मौका मिला।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned