भूल जाइए 4जी 5जी, ये देश ला रहा 6जी तकनीक

चीन में बहुत जल्द ही 6जी तकनीक लाने की तैयारी हो रही है. इसका एेलान चीन के इंफाॅर्मेशन टेक्नोलाॅजी मंत्रालय ने कर दिया है.

By: manish ranjan

Published: 12 Mar 2018, 03:02 PM IST

नर्इ दिल्ली. भारत में 4जी तकनीक के बाद अब 5जी को तकनीक को लाने की बात हो रही है लेकिन एक एेसा भी देश है जहां इससे भी एक कदम आगे की बात हो रही है. ये देश कोर्इ आैर नहीं बल्कि चीन है. चीन में बहुत जल्द ही 6जी तकनीक लाने की तैयारी हो रही है. इसका एेलान चीन के इंफाॅर्मेशन टेक्नोलाॅजी मंत्रालय ने कर दिया है. इस चीनी मंत्रालय ने अपने एेलान में कहा है कि, नेक्सट जेनरेशन कम्यूनिकेशन नेटवर्क 6जी की जल्द ही शुरुआत की जाएगी. चीनी इंडस्ट्री एंंड आर्इटी मंत्री ने इसपर 13वें नेशनल पीपल कांग्रेस के दौरान कहा कि, इंटरनेट आॅफ थिंग्स के लिए हमें एक आैर अधिक बेहतर आैर योग्य नेटवर्क की जरुरत है. इसी को देखते हुए हम 6जी टेक्नोलाॅजी के विकास के बारे में विचार कर रहे हैं.


चीन कर रहा इंटरनेट आॅफ थिंग्स पर फोकस

चीनी मंत्री ने कांग्रेस में बता करते हुए कहा, आने वाले दिनों में लाइफ को पूरी तरह से डिजिटल बनाने के लिए ड्राइवरलेस कार की जरुरत होगी जिसे चलाने के लिए हमें एक तेज आैर बेहतर नेटवर्क चाहिए होगी. एक एेसे नेटवर्क जो मौजूदा तकनीक से भी तेजी से डाटा ट्रांसफर कर सके. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो चीनी मंत्रालय इंटरनेट आॅफ थिंग्स पर फोकस कर रहा जिससे की वो 6जी तकनीक को डेवलप कर सकें. इंटरनेट आॅफ थिंग्स एक एेसी तकनीक है जिससे एक डिवाइस को दूसरे से कनेक्ट किया जा सकता है, जिसमें मोबाइल नेटवर्क का सहारा लिया जाता हैं. मोबाइल नेटवर्क के प्रयोग से दो फायदे होते हैं. पहला ये कि, इससे परफाॅर्मेंस बढ़ाने में मदद मिलती है आैर दूसरा ये कि इसमें इंसानों की ज्यादा जरुरत नहीं होती. वहीं इससे सभी कनेक्टेड डिवाइस का कंट्रोल सेंट्रलाइज तरीके से होता है.


दुनिया का पहला 6जी तकनीक वाला देश बन जाएगी चीन

यदि चीन जल्दी ही 6जी तकनीक को डेवलप कर लेता है तो वो दुनिया का पहला एेसा देश होगा जहां इस तकनीक का प्रयोग होगा. आपको बता दें कि 5जी तकनीक पर अभी भी काम किया जाना बाकी है. कर्इ चीनी कंपनियं अभी भी इसपर काम कर रही हैं. यदि 5जी तकनीक अा जाती है तो आपकी मौजूदा इंटरनेट स्पीड 20-25 गुना बढ़ जाएगा. भारत में भी हुआवे 5जी तकनीक पर बात कर रहा है. इसके लिए कर्इ भारतीय टेलिकाॅम कंपनियां हुआवे के साथ मिलकर काम कर रही हैं.

Show More
manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned