दशक का आठवां सबसे बड़ा आईपीओ बना Happiest Minds, ऐसे चेक करें अलॉटमेंट

  • - बीते सप्ताह Happiest Minds के आईपीओ पर लगी थी 151 गुना बोली
  • - जबरदस्त डिमांड से दशक का 8वां सबसे बड़ा IPO बना Happiest Minds

By: Saurabh Sharma

Published: 15 Sep 2020, 10:19 AM IST

नई दिल्ली। 9 सितंबर को बंद हुए Happiest Minds के आईपीओ की आईपीओ की चर्चा अब तक हो रही है। किसी भी आईपीओ का ऐसा प्रदर्शन काफी कम देखने को मिलता है। ऐसी डिमांड आखिरी बार 2017 में देखने को मिली थी, जब सालासार टेक्नो इंजीनियरिंग का आईपीओ आया था। खैर अपने शानदार प्रदर्शन और जबरदस्त डिमांड की वजह से दशक का आठवा सबसे बड़ा आईपीओ बन गया। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आपने भी इस आईपीओ के लिए आवेदन किया था जो आपके पास शेयर पहुंचे या नहीं।

यह भी पढ़ेंः- नेटफ्लिक्स, प्राइम जैसे OTT Platforms को बड़ी राहत, नहीं बनाए जाएंगे अलग से नियम

दशक का आठवां सबसे बड़ा आईपीओ
- Happiest Minds का आईपीओ 150.98 गुना सब्सक्राइब हुआ था।
- कंपनी का इश्यू नॉन-इंस्टीट्यूशनल सेगमेंट में 351.50 गुना सब्सक्राइब हुआ। - क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स सेगमेंट में 77.4 गुना बोली लगी है।
- कंपनी का आईपीओ 7 सितंबर को खुला था और 9 सितंबर को बंद हुआ था।
- रिटेल निवेशकों ने 70.94 गुना बोली लगाई थी।
- पिछले एक दशक में सबसे ज्यादा बोली लगने वाले आईपीओ का नाम है सालासार टेक्नो इंजीनियरिंग।
- जुलाई 2017 में जारी हुआ था सालासार टेक्नो इंजीनियरिंग का आईपीओ।
- सालासार टेक्नो इंजीनियरिंग का आईपीओ हुआ था 277.28 गुना सब्सक्राइब।

यह भी पढ़ेंः- Petrol और Diesel की कीमत में लगातार दूसरे दिन गिरावट, जानिए आपके शहर में हुआ कितना सस्ता

ऐसे चेक करें शेयर मिला या नहीं
- सबसे पहले आपको ipo.alankit.com पर क्लिक करना होगा।
- उसके बाद Happiest Minds पर क्लिक करके ड्रॉप डाउन में अपना एप्लिकेशन नंबर लिखना होगा।
- एप्लिकेशन नंबर की जगह डीमैट अकाउंच नंबर या पैन नंबर लिख सकते हैं।
- Happiest Minds पर क्लिक करके ड्रॉप डाउन करने पर आपको अलॉटमेंट का पता तब ही चलेगा जब कंपनी इसे अलॉटमेंट जारी कर चुकी होगी।
- BSE की वेबसाइट पर भी जाकर अपना अलॉटमेंट चेक किया जा सकता है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned