5 साल में राकेश झुनझुनवाला ने इस Stock से कमाए 89 करोड़, जानिए क्या है उनका फंडा

  • SpiceJet के स्टाॅक्स से राकेश झुनझुनवाला ने कमाया 89 करोड़।
  • कंपनी में उनके 75 लाख शेयर्स।
  • नवंबर 2014 में किया था निवेश।

By: Ashutosh Verma

Published: 18 Jun 2019, 02:19 PM IST

नई दिल्ली। स्पाइसजेट ( SpiceJet ) के शेयर्स पर देश के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला ( rakesh jhunjhunwala ) ने एक लंबा और बड़ा दांव खेला था। बीते पांच सालों में राकेश झुनझनवाला के लिए इन शेयर्स ने उम्मीद से बेहतर रिटर्न भी दिया। इस दौरान स्पाइसजेट शेयर्स ( SpiceJet Shares ) पर रिटर्न 600 फीसदी से भी अधिक रहा है। साल 2014 में स्पाइसजेट के एक शेयर का भाव 14.10 रुपए था। आज इसका भाव 137 रुपए प्रति शेयर पर आ गया है।

21 जून को GST Council की 35वीं बैठक, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में इन मुद्दों पर होगी चर्चा

इस साल अब तक कंपनी के शेयरों में 54 फीसदी की तेजी

इस प्रकार पिछले 5 सालों में स्पाइसजेट के शेयरों में कुल 618 फीसदी की तेजी रही है। अब तक स्पाइसजेट के शेयरों का रिटर्न 618 फीसदी रहा है। साल 2019 की शुरुआत से लेकर अब तक स्पाइसजेट के शेयरों में 54 फीसदी की तेजी रही है। बीते एक साल में देखें तो इसमें कुल 23 फीसदी की बढ़त रही है।


स्पाइसजेट में झुनझुनवाल की 1.25 फीसदी हिस्सेदारी

नवंबर 2014 में राकेश झुनझुनवाला ने 17.88 रुपए प्रति शेयर के भाव से स्पाइसजेट के 75 शेयर्स खरीदा था, जिसकी कुल कीमत 13.4 करोड़ रुपए थी। आज के हिसाब से देखें तो झुनझुनवाला के इन 75 लाख शेयरों की कीमत अब 102 करोड़ रुपए है, यानी बीते पांच सालों में राकेश झुनझुनवाला को स्पाइसजेट के इन 75 लाख शेयरों से कुल 89 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। मार्च तिमाही तक स्पाइसजेट में राकेश झुनझुनवाला के कुल 75 लाख शेयर्स थे, जोकि कंपनी की कुल शेयर्स का 1.25 फीसदी है।

टेक कंपनियों पर Apple CEO टिम कुक ने उठाया सवाला, कहा- आप जिम्मेदारियों से नहीं भाग सकते

घाटे से उबर रही स्पाइसजेट

चैथी तिमाही में इस एयरलाइन कंपनी का मुनाफा पिछले साल 46.15 करोड़ रुपए से 22 फीसदी बढ़कर 56.29 करोड़ रुपए रहा। हालांकि, इस विमान कंपनी को वित्त वर्ष 2018-19 में 316.08 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। वित्त वर्ष 2017-18 में इस विमान कंपनी को 557.20 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। स्पाइसजेट के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने अपने एक बयान में कहा, "पहली दो तिमाहियो में 427.5 करोड़ रुपए के घाट के बाद कंपनी को पिछली दो तिमाहियों में तेज रिकवरी देखने को मिली है। पहली दो तिमाहियों में यह घाटा ईंधन की कीमतों में तेजी और डाॅलर के मुकाबले रुपए में गिरावट की वजह से हुआ था।"


कंपनी का आक्रामक रुख

अब जेट एयरवेज के अस्थायी रूप से बंद होने के बाद स्पाइसजेट तेजी से बाजार में पकड़ बनाने के लिए आक्रामक रुख अपना रही है। हाल ही में कंपनी ने बाइंग 737 विमानों को अपने बेड़े में शामिल करने का ऐलान किया है, जिसके बाद कंपनी के पास कुल 100 से भी अधिक विमान होंगे।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

SpiceJet
Show More
Ashutosh Verma Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned