खराब वैश्विक संकेतों के बीच कमजाेरी के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स 227 अंक फिसला, निफ्टी 10750 के करीब

बीएसर्इ सेंसेक्स 227 अंकों की गिरावट के साथ 35317 के स्तर पर कारोबार कर रहा वहीं निफ्टी में भी 73 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है।

By: Ashutosh Verma

Updated: 16 May 2018, 09:51 AM IST

मुंबर्इ। कर्नाटक विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद सरकार बनने के अनिश्चितता आैर कमजोर वैश्विक बाजार से आज घरेलू शेयर बाजार की शुरूआत कमजोरी के साथ हुर्इ। आज 30 शेयरों वाला बीएसर्इ सेंसेक्स 166 अंको की गिरावट के साथ 35,377 के स्तर पर आैर 50 शेयरों वाला एनएसर्इ निफ्टी 50 अंकों की गिरावट के साथ 10,747 के स्तर पर खुला। शुरूआती कारोबार में बैंक निफ्टी में 184 अंकों की भारी गिरावट देखने को मिली। सबसे ज्यादा गिरावट पंजाब नेशनल बैंक में देखने को मिल रही है। पीएनबी में करीब 10 फीसदी की गिरावट देखने के मिल रही है।


वहीं जिन शेयरों में अच्छी खरीदारी देखने को मिल रही है, उनमें ल्यूपिन, पावर ग्रिड, टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टीसीएस आैर टेक महिन्द्रा शामिल हैं। जबकि टाइटन, बजाज फिनसर्व, आर्इसीआर्इसीआर्इ बैंक, एक्सिस बैंक, सिप्ला, एचपीसीएल आैर एसबीआर्इ के शेयरों में दबाव देखने को मिल रहा है।


फिलहाल बीएसर्इ सेंसेक्स 227 अंकों की गिरावट के साथ 35317 के स्तर पर कारोबार कर रहा वहीं निफ्टी में भी 73 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। आर्इटी आैर मेटल सेक्टर छोड़ बाकी सभी सेक्टर लाल निशान पर कारोबार कर रहे हैं। मिडकैप आैर स्माॅलकैप के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है।


एशियार्इ बाजारों की कमजोर शुरूआत

अाज सप्ताह के तीसरे दिन एशियार्इ बाजारों की शुरूआत कमजोरी के साथ हुर्इ। जापान का निक्केर्इ 75 अंक फिसलकर 22,743 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। चीन का हैंग सेंग में भी 227 अंकों की भारी गिरावट के साथ 30,925 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं सीजीएक्स निफ्टी में भी 70 अंकों कि गिरावट देखने को मिल रहा है। सीजीएक्स निफ्टी 10,755 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। काेरिया के कोस्पी में भी 0.1 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रहा है।


रुपए में कमजाेरी

बुधवार को डाॅलर के मुकाबले रुपए की शुरूआत गिरावट के साथ हुर्इ। आज रुपया 7 पैसे की गिरावट के साथ 68.14 के स्तर पर खुला। इसके पहले कारोबारी दिन डाॅलर के मुकाबले रुपया पिछले 16 माह के निचले स्तर 68.08 पर खुला था। बीते दिन रुपए में आर्इ कमजोरी साल 2018 की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट रही।

Show More
Ashutosh Verma Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned