अगले सप्ताह IIP और मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर निर्भर करेगी बाजार की चाल

अगले सप्ताह IIP और मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर निर्भर करेगी बाजार की चाल

Shivani Sharma | Updated: 08 Sep 2019, 02:33:04 PM (IST) बाजार

  • मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर निर्भर करेगा बाजार
  • इस सप्ताह मंगलवार को ‘मोहर्रम’ के मौके पर बाजार में अवकाश रहेगा

नई दिल्ली। शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह कुछ महत्वपूर्ण वृहद आर्थिक आंकड़ों से तय होगी। विश्लेषकों का कहना है कि सरकार की ओर से कुछ और प्रोत्साहन मिलने की उम्मीद से बाजार धारणा मजबूत रह सकती है। इस सप्ताह मंगलवार को ‘मोहर्रम’ के मौके पर बाजार में अवकाश रहेगा।


मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर निर्भर करेगा बाजार

एपिक रिसर्च के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुस्तफा नदीम ने कहा कि बाजार की निगाह औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) और विनिर्माण के आंकड़ों पर रहेगी। इनके बाद मुद्रास्फीति के भी आंकड़े आएंगे। ये आंकड़ें यदि अच्छे रहते हैं तो निवेशकों को राहत मिलेगी।


विनोद नायर ने दी जानकारी

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की लगातार बिकवाली चिंता का विषय है, लेकिन नीतिगत उपायों की उम्मीद के बीच लघु अवधि में बाजार का रुख सकारात्मक रहेगा। नायर ने कहा कि निवेशकों की निगाहें औद्योगिक उत्पादन, मुद्रास्फीति और विनिर्माण उत्पादन के आंकड़ों पर भी रहेंगी, जो बृहस्पतिवार को आने हैं।


ये भी पढ़ें: निधन के बाद अपने पीछे 59 करोड़ की संपत्ति छोड़ गए राम जेठमलानी, एक केस लड़ने की फीस थी 25 लाख रुपए


ऑटो सेक्टर को मिल सकती है राहत

सैमको सिक्योरिटीज एंड स्टॉक नोट के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिमीत मोदी ने कहा कि बाजार व्यापार युद्ध के मोर्चे पर कुछ राहत और भू राजनैतिक स्थिति में सुधार का स्वागत कर सकता है। विश्लेषकों का कहना है कि सरकार की ओर से और राहत मिलने की उम्मीद में वाहन कंपनियों के शेयर मांग में रह सकते हैं।


वित्त राज मंत्री ने दी जानकारी

वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने शुक्रवार को वाहन उद्योग से कहा था कि वे राज्यों के वित्त मंत्रियों के साथ भी माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में कटौती का मामला उठाएं। राज्यों के वित्त मंत्री भी जीएसटी परिषद के सदस्य हैं। वाहन उद्योग लंबे समय से जीएसटी कटौती की मांग कर रहा है। ठाकुर ने वाहन उद्योग को केंद्र की ओर से पूर्ण समर्थन का भरोसा दिलाया है।


बीते सप्ताह रही गिरावट

विश्लेषकों के मुताबिक, इसके अलावा रुपये के उतार-चढ़ाव, कच्चे तेल की कीमतें और विदेशी निवेशकों के निवेश के रुख से भी कारोबारी धारणा प्रभावित होगी। बीते सप्ताह बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 351.02 अंक या 0.94 प्रतिशत टूटा था।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned