script1061 corona patients found in one day in Meerut | Meerut Corona News Update : संक्रमित मरीजों का आक्सीजन लेबल देख डाक्टर हैरान,कहीं ये चौकाने वाली बात | Patrika News

Meerut Corona News Update : संक्रमित मरीजों का आक्सीजन लेबल देख डाक्टर हैरान,कहीं ये चौकाने वाली बात

Meerut Corona News Update कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या भले ही बढ़ती जा रही हो। लेकिन मिल रहे संक्रमित मरीजों में चिकित्सकों को काफी कुछ ऐसे लक्षण देखने को मिल रहे हैं। जिससे चिकित्सक राहत की सांस ले रहे हैं। ये लक्षणों में आक्सीजन का लेबल भी है। मेरठ में शनिवार को 1061 कोरोना संक्रमित मिले। जिसके बाद मरीजों की संख्या अब 7777 हो चुकी है।

मेरठ

Published: January 16, 2022 10:14:12 am

Meerut Corona News Update कोरोना संक्रमण इस समय तेजी से बढ़ रहा है। मेरठ में प्रतिदिन हजारों की संख्या में मरीज मिल रहे हैं। मेरठ ही नहीं पूरे पश्चिमी उप्र के जिलों का यही हाल है। सबसे बुरा हाल एनसीआर के नोएडा और गाजियाबाद का है। लेकिन इस बार चिकित्सकों और मरीजों के लिए थोड़ा राहत की बात है। तीसरी लहर में संक्रमित हो रहे मरीजों में इस बार आक्सीजन लेबल नहीं गिर रहा है। मेरठ के मेडिकल कालेज में न सिर्फ मेरठ बल्कि सहारनपुर मंडल और मुरादाबाद मंडल के भी मरीज भर्ती होने के लिए आ रहे हैं। अब तक मेरठ मेडिकल कालेज में जितने भी कोरोना संक्रमित मरीज आए हैं उनमें से कोई भी गंभीर श्रेणी में नहीं रहा। यानी किसी मरीज को वैटिंलेटर या आक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ी।
Meerut Corona News Update : संक्रमित मरीजों के लिए वैटिंलेटर और आक्सीजन लेबल को लेकर सामने आई ये चौकाने वाली बात, डाक्टर हैरानी
Meerut Corona News Update : संक्रमित मरीजों के लिए वैटिंलेटर और आक्सीजन लेबल को लेकर सामने आई ये चौकाने वाली बात, डाक्टर हैरानी

मेरठ मेडिकल कालेज में इस समय 24 मरीज भर्ती हैं। इन मरीजों में दो को वेंटिलेटर पर और एक को आक्सीजन पर रखना पड़ा है। लेकिन ये मरीज वो हैं जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं या फिर जिनकी उम्र 60 से ऊपर हो चुकी है। डाक्टरों का कहना है कि कोरोना संक्रमण से कोई मरीज गंभीर नहीं है, बल्कि जिनको वेटिंलेटर या वाईपेप पर रखा इसकी वजह दूसरी बीमारियां हैं। कोविड वार्ड प्रभारी डा0 धीरज बालियान ने बताया कि इस बार दूसरी लहर की तरह कोविड वायरस सीधा फेफड़े पर हमला नहीं कर रहा। इस बार बेहतर बात ये है कि इसको फेफड़े में जाने से पहले ही रोका जा रहा है। जिससे मरीज ठीक हो रहे हैं और घर जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि करीब 95 प्रतिशत मरीज इस समय घर पर होम आइसोलेशन में अपना इलाज कर रहे हैं। जिन्हें अभी तक किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई है।
यह भी पढ़े : Corona Third Wave : पीएसी पर कोरोना का हमला, वेस्ट में तीसरी लहर ने पकड़ी रफ्तार

डा.धीरज बालियान का कहना है कि ठंड के मौसम में सांस के मरीजों की हालात खराब होती है ऐसे में अगर उनको कोविड हो जाए तो इस संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होना पड़ता है। कोविड संक्रमण की वजह से अस्पतालों में मरीजों की भर्ती इसलिए ही बढ़ी है। उन्होंने बताया कि इस बार संक्रमित मरीजों में से करीब 98 प्रतिशत मरीजों में आक्सीजन लेबल बेहतर रहा। जबकि वो गुर्दा, हार्ट, न्यूरो, लिवर या अन्य गंभीर बीमारियों के शिकार थे। उन्होंने बताया कि तीसरी लहर में कोरोना वायरस कमजोर हुआ है।
शनिवार को कुल 1061 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित मिले। इनमें 642 नए मरीज मिले और 419 मरीज कांटेक्ट ट्रेसिंग में संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमितों में छात्र, स्वास्थ्य कर्मचारी, विभिन्न संगठनों के लोग व सफाई कर्मचारी शामिल हैं। 11 मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया। जिले में इस समय 7777 मरीज संक्रमित हैं। जिनका इलाज चल रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेताPunjab Budget 2022: 1 जुलाई से फ्री बिजली; यहां पढ़ें पंजाब सरकार के पहले बजट में क्या-क्या है खासमुकुल रॉय ने पश्चिम बंगाल विधानसभा के पब्लिक अकाउंट्स कमेटी के चैयरमैन पद से दिया इस्तीफा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.