दांत के दर्द की दवा लेने गर्इ थी छात्रा, चिकित्सक ने इलाज के नाम पर किया यह

दांत के दर्द की दवा लेने गर्इ थी छात्रा, चिकित्सक ने इलाज के नाम पर किया यह

Sanjay Kumar Sharma | Publish: Sep, 16 2018 02:19:52 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

परिजनों ने किया हंगामा, पुलिस ने चिकित्सक को गिरफ्तार किया

 

मेरठ। स्कूल से छुट्टी के बाद घर आई छात्रा ने परिजनों से दांत में दर्द की शिकायत की। परिजनों ने पास ही झोलाछाप चिकित्सक से दवाई लाने की बात कही। छात्रा उसके पास पहुंची तो झोलाछाप ने इलाज के नाम पर ऐसा काम कर डाला कि वह रोती बिलखती घर पहुंची और परिजनों को आप बीती बताई। परिजनों ने झोलाछाप के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी है। गांव में झोलाछाप चिकित्सक के खिलाफ आक्रोश फैला हुआ है।

यह भी पढ़ेंः पड़ोसी युवक ने किशोरी को बनाया गर्भवती, कर्इ महीने तक धमकाकर करता रहा दुष्कर्म, एेसे खुला यह राज

परिजनों ने दुष्कर्म का आरोप लगाया

खरखौदा क्षेत्र की छात्रा के परिजनों ने गांव के एक झोलाछाप पर किशोरी के साथ दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाया है। परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने आरोपी झोलाछाप को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि आरोपी ने खुद पर लगेे आरोप को झूठा बताया है। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्रामीण की 12 वर्षीय पुत्री गांव के स्कूल की छात्रा है। परिजनों के मुताबिक शनिवार को छात्रा स्कूल गई थी। वह स्कूल की छुट्टी के बाद घर पहुंची और अपने दांत में दर्द की शिकायत की। परिजनों ने गांव में दुकान करने वाले झोलाछाप देवेन्द्र के पास दवाई लाने को भेज दिया। किशोरी जब चिकित्सक के पास गई तो वह अपने क्लीनिक के बाहर ही खड़ा था। किशोरी ने उसे दर्द की शिकायत की तो उसकी जांच के बहाने आरोपी उसे अपने क्लीनिक के भीतर ले गया। क्लीनिक में ले जाकर देवेन्द्र ने छात्रा से जबरदस्ती करते हुए उसके कपड़े उतारने का प्रयास किया तो किशोरी ने शोर मचा दिया। जिसके बाद आरोपी फरार हो गया। बदहवास रोती हुई किशोरी ने घर पहुंचकर परिजनों को घटना की जानकारी दी तो हड़कंप मच गया। परिजनों ने आरोपी के खिलाफ खरखौदा थाने में तहरीर देते हुए मुकदमा दर्ज कराया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी देवेन्द्र पुत्र गुड्डू को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ेंः मेरठ के इस चर्चित हत्याकांड के आरोपी को मिला आजीवन कारावास, जानिए एक मात्र गवाह ने फैसले के बाद क्या कहा

आरोपी ने लगे आरोपों को नकारा

इंस्पेक्टर खरखौदा राजेन्द्र त्यागी ने बताया कि आरोपी को जेल भेजा जा रहा है। वहीं, आरोपी ने खुद पर लगे आरोप को झूठा बताया है। उसका कहना है कि उसने दुकान के बाहर खड़े-खड़े ही छात्रा के दांत चेक किये थे, लेकिन उसके परिवार वालों ने अकारण उस पर दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगा दिया। दूसरी ओर थानेदार ने जब किशोरी से बात की तो किशोरी ने बताया कि आरोपी झोलाछाप उसके साथ छेड़छाड़ कर रहा था।

Ad Block is Banned