Meerut: Dengue और Swine Flu से निपटने के लिए शुरू हुआ अनोखा 'इलाज'- देखें वीडियो

sharad asthana | Updated: 11 Oct 2019, 02:13:13 PM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

Highlights

  • अस्पतालों में Dengue और Swine Flu के मरीजों की लग रही हैं लंबी कतारें
  • त्यागी हाॅस्टल के मैदान में शुरू हुआ पांच दिन तक चलने वाला यज्ञ
  • यज्ञ में शहर के हजारों लोग 11 वेदियों में देंगे आहुति

मेरठ। डेंगू (Dengue) और स्वाइन फ्लू (Swine Flu) को रोकने के लिए मेरठ (Meerut) में यज्ञ का सहारा लिया जा रहा है। इसको लेकर त्यागी हाॅस्टल में विशाल यज्ञ का आयोजन किया गया है। इसमें हजारों की संख्या में लोग हिस्‍सा ले रहे हैं। यज्ञ 13 अक्टूबर की सुबह 10 बजे तक चलेगा।

मौसम का मिजाज बदलने के बाद बढ़ रही हैं बीमारियां

मौसम का मिजाज बदलने के साथ ही कई बीमारियां भी पैर पसारने लगी हैं। जिले में इन दिनों अस्पतालों की ओपीडी (OPD) में डेंगू और स्वाइन फ्लू के मरीजों की लंबी-लंबी कतारें लग रही हैं। ऐसे में अब शहर के लोगों ने यज्ञ का सहारा लेते हुए इस बीमारी से निपटने की ठानी है। शहर के त्यागी हॉस्पिटल में पांच दिवसीय चतुर्वेद परायण यज्ञ का आयोजन शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें: Reality Check: डाकघर पर बताइए आधार नंबर और ले जाइए 10 हजार रुपये

धुएं से नष्ट होंगे कीटाणु

यज्ञ के आयोजन सदस्य डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि तृतीय चतुर्वेद परायण यज्ञ में शहर के हजारों लोग 11 वेदियों में आहुति देंगे। इसके लिए गाय के शुद्ध घी और विशिष्ट औषधियों से बनी सामग्री का प्रयोग किया जाएगा। इससे निकलने वाले धुएं से वातावरण में फैले विभिन्न प्रकार की बीमारियों के विषाणु और कीटाणु पूरी तरह से नष्ट हो जाएंगे। उन्‍होंने कहा कि हर वर्ष डेंगू और स्वाइन फ्लू जैसी बीमारियों से निपटने के लिए इस यज्ञ का आयोजन किया जाता है।

यह भी पढ़ें: इस महिला के नाम से कांपते हैं वेस्‍ट यूपी के लोग, जेल से बाहर आने पर चप्‍पे-चप्‍पे पर तैनात की गई पुलिस

कहा- यज्ञ का अपना महत्‍व है

उनका कहना है कि वे किसी मेडिकल साइंस को बेकार नहीं बता रहे हैं, लेकिन यज्ञ का भी अपना अलग ही महत्व है। इसके करने से वातावरण में फैले रोगाणु नष्ट हो जाते हैं। आजकल यज्ञ की परंपरा विलुप्त हो रही है। इस कारण इस प्रकार की बीमारियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यदि यज्ञ आदि का प्रयोग किया जाए तो बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned