New Motor Vehicle Act: ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए मची अफरातफरी, शासन से की ये बड़ी मांग

New Motor Vehicle Act: ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए मची अफरातफरी, शासन से की ये बड़ी मांग

Sanjay Kumar Sharma | Updated: 06 Oct 2019, 12:19:43 PM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

Highlights

  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए रोजाना पहुंच रहे सैकड़ो लोग
  • लर्निंग और स्थायी लाइसेंस के लिए भीड़ से सिस्टम पर असर पड़ रहा
  • अगले तीन महीने के लिए आरटीओ आफिस में पूरी हो चुकी बुकिंग

मेरठ। New Motor Vehicle Act (नया मोटर व्हीकल एक्ट) के अंतर्गत ट्रैफिक के नियमों पर सख्ती को लेकर सबसे ज्यादा असर ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) में देखा जा रहा है। ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) द्वारा भारी-भरकम चालान काटे जाने के बाद ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वालों की भीड़ आरटीओ आफिस (RTO) में पहुंच रही है। मेरठ में रोजाना एक हजार से ज्यादा की भीड़ ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की लाइन में खड़ी हो रही है, जबकि रोजाना इतनी संख्या में ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बन पा रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः पुलिस ने कब्रिस्तान में मारा छापा तो फर्जी कब्र से मिला ये खौफनाक सामान, सब पड़ गए हैरत में

तमाम कोशिशों के बाद भी डीएल बनवाने की समस्या खत्म नहीं हो पा रही है। अतिरिक्त कम्प्यूटर सिस्टम नहीं मिलने के कारण आरटीओ स्लॉट नहीं बढ़ा पा रहा है। इसके कारण अगले तीन महीने तक की बुकिंग हो चुकी है। डीएल के अभ्यर्थियों को इससे आगे के स्लॉट नहीं मिल पा रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः माता-पिता बेटी को ससुराल से ले गए और दामाद को बुला लिया घर, फिर किया ये खौफनाक काम

नए मोटर व्हीकल एक्ट में भारी-भरकम जुर्माना फीस से बचने के लिए लोगों में डीएल बनवाने के लिए अफरातफरी मची हुई है। रोजाना एक हजार से ज्यादा की भीड़ को देखते हुए आरटीओ ने निर्धारित 150 स्लॉट को बढ़ाकर 200 स्लॉट प्रतिदिन कर दिया है। साथ ही राहत देते हुए दो महीने की एडवांस बुकिंग को बढ़ाकर तीन महीने कर दिया है। तीन महीने के स्लॉट एडवांस में बुक चल रहे हैं। इसके बावजूद लोग अपने फार्म ऑनलाइन भरने में लगे हुए हैं, लेकिन स्लॉट आवंटित नहीं होने से उनका फार्म आगे नहीं बढ़ रहा है। आरटीओ डा. विजय कुमार ने बताया कि अभ्यर्थियों की परेशानी को देखते हुए शासन से 10 अतिरिक्त कंम्प्यूटर सिस्टम की मांग की गई है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned