नव विवाहिता का अपहरण कर ले गए हरियाणा, 20 दिन तक भट्टे पर बंधक बनाकर गैंगरेप

Highlights

-परिजनों ने थाने में दी तहरीर

-20 दिन से ईट के भटटे पर बंधक थी नवविवाहिता

-महिला समेत चार पर गैंगरेप का आरोप

By: Rahul Chauhan

Published: 02 Sep 2020, 10:58 AM IST

मेरठ। मेरठ से एक नवविवाहित का अपहरण कर उसे हरियाणा ले जाया गया जहां पर उसके साथ गैंगरेप किया गया। पुलिस ने इस मामले में महिला समेत चार लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी गई है। पुलिस ने आरोपियों के परिजनों से पूछताछ की है। जिससे आरोपियों पर दबाव बना और वे नवविवाहिता को मेरठ में छोड़कर चले गए। महिला ने घर पहुंचकर आपबीती बताई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घटना थाना लिसाडी गेट क्षेत्र के कांच का पुल की हैं, जहां निवासी एक महिला का निकाह कुछ समय पहले न्यू इस्लामनगर में हुआ था। नवविवाहिता एक माह पूर्व अपने मायके आई हुई थी। इस दौरान 11 अगस्त को नवविवाहिता को तीन युवकों ने अपहरण कर लिया। इस मामले में नवविवाहिता की मां की ओर से चौकी पर तहरीर दी गई थी।

पूरे मामले में चौकी पुलिस ने आरोपियों के घर पूछताछ शुरू की। बाद में मामला दबाने का प्रयास किय गया। खुलासा हुआ कि इस अपहरण में मोहल्ले की ही एक महिला शामिल है, जो वारदात के बाद से गायब है। पुलिस के दबाव की खबर आरोपियों तक पहुंची तो पीडित नवविवाहिता को सोमवार दोपहर मेरठ में लाकर छोड़ दिया। नवविवाहिता अपने घर पहुंची और सनसनीखेज खुलासा किया।

बताया गया है कि मोहल्ले की ही महिला उसे बहाने से अपने घर ले गई थी। वहां से हथियारों के बल पर अपहरण कर एक वैन में डालकर हरियाणा में रोहतक के पास फरवाना ले जाया गया और एक ईंट भट्ठे पर रखा गया। बताया कि तीन आरोपियों दिलशाद, अफसार और अशरफ ने उसके साथ वहां गैंगरेप किया। इस बात की जानकारी चौकी पुलिस को दी गई। मामला चूंकि गैंगरेप का बताया गया, इसलिए पीड़ित परिवार को थाने भेजा गया। पुलिस को तहरीर दी गई है। फिलहाल मामले में पुलिस पूछताछ कर रही है।

इस पूरे प्रकरण में पीडित महिला के बयान कराने के बाद उसका मेडिकल कराया जाएगा। एसओ लिसाडी गेट प्रशांत कपिल ने बताया कि पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है। आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned