यह है यूपी के मिर्जापुर का अनोखा बैंक जहां पैसा नहीं, जमा होती हैं रोटियां

ऐसे हुई इस रोटी बैंक की शुरूआत, अब नहीं रहेगा कोई गरीब भूखा

By: sarveshwari Mishra

Published: 15 Jan 2018, 01:19 PM IST

मिर्ज़ापुर. बैंक तो आपने बहुत से देखे होंगे लेकिन ऐसा बैंक जहां पैसा नहीं बल्कि रोटी जमा होती है। यह आपको सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लगेगा मगर सच है। यूपी के मीरजापुर जिले में एक ऐसा बैंक है जहां रुपये नहीं बल्कि रोटी जमा होती है। ऐसा इसलिए कि इस रोटी बैंक से गरीबों की भूख मिटाई जा सके। मकर संक्रांति पर कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए इसे लेकर इस बैंक की शुरूआत हुई। नगर के बरियाघाट पर पहली बार आयोजित कार्यक्रम में सैकड़ों भूखे लोगों को खाना खिलाकर इस बैंक कि शुरूआत की गई।


संस्था ने बताया कि पूरे शहरी क्षेत्र के लोगों से उनके बचे भोजन को इकट्ठा कर भूखे लोगों में वितरित किया जाएगा। इसी के साथ वैवाहिक कार्यक्रम में बचे खाने को भी इकट्ठा कर गरीबों को बांटने का कार्य किया जाएगा। इसके लिए संस्था ने लोगों से रोटी बैंक से जुड़ने की अपील की।

 


ऐसे हुई इस रोटी बैंक की शुरूआत
रोटी बैंक की शुरूआत कृष्णा शुक्ला ने की। इन्होंने बताया कि एक बार जब वह शहर के एक वैवाहिक कार्यक्रम दो गरीब बच्चों को जूठे प्लेट में छोड़े गए खाने को खाते हुए देखा तभी से उन्होंने ठान ली कि गरीबों को लिए कुछ ऐसा करेंगे जिससे वे कभी भूखे नहीं रहें न ही उन्हें किसी का जूठा खाना पड़े। तब उन्होंने रोटी बैंक खोलने की सोची। उनका कहना है कि इस बैंक में वे लोग अपने घरों में बचे हुए खाने को जमा करेंगे जो खुद खाने के बाद घर में बचता है उसे फेक देते हैं। इस बैंक से वह बचा खाना उन तक पहुंचेगा जो खाली पेट सो जाते हैं।

 


आपको बता दें कि यह रोटी बैंक मीरजापुर रेलवे स्टेशन परिसर, रोडवेज परिसर एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भूखे पेट सोने वाले असहाय व गरीब व्यक्तियों की भूख मिटाएगा। अब सड़क पर अपना दिन गुजारने वालों को रोटी के लिए नहीं तरसना होगा।

 


जिले के पाण्डेयपुर निवासी कृष्णा शुक्ला ने अपने मित्रों के सहयोग से रोटी बैंक स्थापना की है। उन्होंने बताया कि इस बैंक से गरीब और निर्धन लोगों की मदद होगी। कोई भी शहर में भूखा नहीं सोएगा। इस बैंक में धीरज पाण्डेय, दिलीप पाण्डेय, सुरेंद्र श्रीवास्व, कमल श्रीवास्तव एवं गोविंद शुक्ल ने मिलकर स्वच्छ विंध्य सुंदर विंध्य के माध्यम से रोटी बैंक की स्थापना की।

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned