विंध्याचल मंदिर तीन महीने बाद आम लोगों के लिए खोला गया, सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क लगाकर कराया जा रहा दर्शन

सरकार की गाइड लाइन के बावजूद, कोरोना पॉज़िटिव मिलने के बाद विंध्याचल मंदिर (Vindhyachal Mandir) का इलाका हो गया था हॉटस्पॉट (Hotspot) , मंदिर खोलने की तारीख बढ़ा दी गयी थी आगे।

मिर्ज़ापुर. लॉक डाउन के चलते तीन महीने बंद बंद रहने के बाद सोमवार को विंध्याचल स्थित माँ विंध्यवानसी मंदिर के कपाट आम लोगों के लिए खोल दिये गए। माता के दर्शन के लिये रात से ही लोगों का आना शुरू हो गय और मंदिर के बाहर श्रद्धालुओं की लंबी कतार लग गयी। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराटे हुए एक बार में पांच श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया जा रहा है। हालांकि मंदिर शासन की गाइड लाइन के अनुरूप पहले ही मंदिर खोलने की तैयारी चल रही थी, लेकिन पुजारी परिवार के एक सदस्य के कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद सुरक्षा के तहत आगे बढ़ा दिया गया था।

 

Vindhyachl Mandir

 

सोमवार की सुबह मंगला आरती के बाद मां विंध्यवासनी मंदिर के कपाट आम भक्तों के लिए खोल दिया गया, तो उसके पहले ही श्रद्धालुओं की लंबी कतार लग गई थी। मंदिर खोलने से पहले ही दर्शन पूजन को लेकर जिला प्रशासन की ओर से व्यवस्था कर दी गयी। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सर्कल बनाया गया है तो वहीं मंदिर पहुंचने वाले सभी चार मार्गों की सख्त निगरानी की जा रही है। गर्भगृह में एक साथ पांच लोगों को ही जाने की अनुमति दी जा रही है। दर्शनार्थियों को मास्क पहनना भी अनिवार्य किया गया है। विंध्य पण्डा समाज के पूर्व अध्यक्ष राजन पाठक का कहना है कि सोशल डिस्टेंसिंग सहित जिला प्रशासन द्वारा जारी सभी नियमों का पालन किया जा रहा है।

 

Vindhyachl Mandir

 

इन व्यस्थाओं के साथ जैसे ही सुबह मंदिर का कपाट खुला दर्शन-पूजन के लिए दूर-दूर से आए दर्शनार्थियों की लाइन लग गयी। प्रतापगढ़ से आए भक्त सुभाष गुप्ता ने कहा कि लॉक डाउन के चलते मंदिर बंद होने के चलते वह माँ के दर्शन पूजन के लिए नहीं आ पा रहे थे। पता चला कि आज से आज मंदिर खुलेगा तो रात को ही यहां पहुंच गए। आज दर्शन पूजन के बाद बहुत खुशी मिली है।

 

Vindhyachl Mandir

 

बताते चलें धर्म स्थलों को खोले जाने की गाइड लाइन के बाद काशी विश्वनाथ समेत मंदिर खुले तो विंध्याचल में भी विन्ध्यावासीनी मंदिर खोलने की तैयारियां की जाने लगीं। पर इसी दौरान मंदिर के नज़दीक ही पुजारी परिवार के एक सदस्य के कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद इलाके को हाट स्पाट घोषित कर दिया गया, जिससे मंदिर का खोला जाना भी आगे बढ़ा दिया गया। अब जाकर जिला प्रशासन और मंदिर की व्यस्वथा का संचालन करने वाली संस्था विंध्य पण्डा समाज की सहमिति के बाद सोमवार से मंदिर को आम दर्शनार्थीयो के लिए खोल दिया गया।

By Suresh Singh

Vindhyachl Mandir
coronavirus
Show More
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned