उत्तराखंड: बादल फटने से मकान में जिंदा दफन हुए 8 लोग, 4 शवों को मलबे से निकाला गया बाहर

उत्तराखंड: बादल फटने से मकान में जिंदा दफन हुए 8 लोग, 4 शवों को मलबे से निकाला गया बाहर

मकान के मलबे में 8 लोग दब गए

टिहरी। उत्तराखंड के टिहरी में एक ही परिवार के 8 लोग अपने ही मकान में जिंदा दफन हो गए। सात लोगों की मौत की खबर है। चार लोगों के शव को मलबे से बाहर निकाला गया है। खबरों के मुताबिक बुधवार सुबह करीब चार बजे बादल फट गया। जिसके बाद भूस्खलन हुआ। भूस्खलन से टिहरी का एक मकान गिर गया। मकान के मलबे में 8 लोग दब गए। 4 लोगों के शवों को बाहर निकाल लिया गया है। हादसे में केवल एक छोटी बच्ची के बचे होने की खबर है। राहत और बचाव कार्य के लिए एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची हुई है, राहत कार्य जारी है। ये दुर्घटना टिहरी के घनसाली के कोट गांव में हुई है। कोट गांव बूढ़ा केदार के पास स्थित है।

पोर्टो रीको में तूफान मारिया से होने वाली मौतों की संख्या दो हजार के पार

बदरीनाथ हाईवे से हटाया जा रहा है मलबा

बदरीनाथ हाईवे पर आए मलबे को हटाया जा रहा है। बुधवार की सुबह बदरीनाथ हाईवे दो और स्थानों पर मलबा आने से बंद हो गया। हाईवे कर्णप्रयाग से करीब 15 किमी. दूर देवलीगढ़ और छिनका में भी बंद है।खबरें के अनुसार बार-बार बाधित हो रहे बदरीनाथ हाईवे पर अब हर पांच किमी में एक जेसीबी तैनात रहेगी, ताकि हाईवे अधिक देर तक बंद न रहे। लामबगड़ और क्षेत्रपाल भूस्खलन जोन में हाईवे के बार-बार बंद होने पर डीएम ने अधिकारियों को यह निर्देश दिए हैं।

जम्मू कश्मीर हाईवे बंद

वहीं जम्मू एवं कश्मीर में उधमपुर के खेरी इलाके में भूस्खलन के चलते जम्मू-श्रीनगर हाईवे बंद कर दिया गया है। यातायात बाधित हुआ पड़ा है, सड़क चालू करने की कोशिशें जारी हैं। मलबे को हटाने का काम किया जा रहा है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned