तकरार बढ़ी: नड्डा के काफिले पर हमले के बाद केंद्र ने 14 दिसम्बर को अफसरों को किया तलब, ममता बोलीं- किसी को नहीं भेजूंगी

Highlights.

- केंद्र और राज्य सरकारों के बीच नए सिरे से तकरार शुरू हो गई है

- गृह मंत्रालय ने राज्यपाल की रिपोर्ट के बाद मुख्य सचिव और डीजीपी को 14 दिसंबर को तलब किया

- मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी घोषणा कर दी कि वह दोनों अफसरों को नहीं भेजेंगी

 

नई दिल्ली।

प. बंगाल में चुनावी दौरे पर गए भाजपाध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले के बाद केंद्र और राज्य सरकारों के बीच नए सिरे से तकरार शुरू हो गई है। जहां केंद्रीय गृहमंत्रालय ने इसे संबंध में राज्यपाल की रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्य सचिव और डीजीपी को 14 दिसंबर को तलब किया.
वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी घोषणा कर दी कि वह दोनों अफसरों को नहीं भेजेंगी। ममता ने मीडिया से कहा, केंद्र सरकार पत्र भेजकर जो काम कर रही है, वह असंवैधनिक है।

शाह जाएंगे बंगाल
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 19 दिसंबर को दो दिवसीय दौरे पर प. बंगाल जाएंगे। बताया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव तक हर महीने अमित शाह दो दिन पश्चिम बंगाल में बिताएंगे।

ममता को आग से नहीं खेलना चाहिए: गवर्नर
राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य की कानून व्यवस्था पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने सीएम से सवाल किया कि राज्य में कौन बाहरी है, उनका इससे या मतलब है? क्या भारतीय नागरिक भी बाहरी हैं, ममता को इस तरह बयान नहीं देने चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को आग से नहीं खेलना चाहिए और संविधान का पालन करना चाहिए।

Amit Shah
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned