scriptAircraft which took Indian troops to Srinagar in 1947, comes home | 1947 में भारतीय सैनिकों को श्रीनगर पहुंचाने वाले विमान की 'घर वापसी' | Patrika News

1947 में भारतीय सैनिकों को श्रीनगर पहुंचाने वाले विमान की 'घर वापसी'

17 अप्रैल को यूनाइटेड किंगडम से अपनी उड़ान शुरू करने के बाद डेकोटा 'डीसी -3 यानी परशुराम' 25 अप्रैल को भारतीय जमीन पर उतरेगा।

नई दिल्ली

Updated: April 25, 2018 02:40:23 pm

नई दिल्ली। द्वितीय विश्व युद्ध में इस्तेमाल हो छुए डेकोटा विमान की भारत में घर वापसी की संभावनाएं प्रबल हो गई हैं। इस विमान ने भारत की आजादी के ठीक बाद 1947 में भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर संघर्ष के दौरान भारतीय सैनिकों को श्रीनगर में ले जाने के दौरान महत्वपूर्ण भमिका निभाई थी।
dacota
धन की कमी बन रही संयुक्त राष्ट्र के शांति प्रयासों में रुकावट

लगभग मृत हो चुके इस विमान की घर वापसी भारत के लिए बेहद यादगार पल है। 17 अप्रैल को यूनाइटेड किंगडम से अपनी उड़ान शुरू करने के बाद डेकोटा 'डीसी -3 यानी परशुराम' 25 अप्रैल को भारतीय जमीन पर उतरेगा। यह इस विमान की उड़ान संख्या 905 होगी। आपको बता दें कि यह वही विमान है जिसने जम्मू कश्मीर में सैनिकों को पहुंचाया था। 27 अक्टूबर 1947 को कश्मीर संघर्ष के दौरान श्रीनगर में पहली सिख रेजिमेंट इस विमान से श्रीनगर में उतारी गई थी।
राजीव चंद्रशेखर का भगीरथ प्रयास

राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर के हस्तक्षेप से इस विमान को स्क्रैप से निकाला गया और वापस रख रखाव कर उड़ने के लायक बनाया गया। यह विमान अपने समय के सबसे बहुमुखी परिवहन विमानों में से एक माना जाता है। यह 25 अप्रैल को गुजरात में जामनगर में उतरेगा। चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने इस वर्ष फरवरी में राजीव चंद्रशेखर से विमान को आईएएफ में औपचारिक रूप से शामिल करने का निवेदन स्वीकार कर लिया था। आईएएफ ने अपने नेविगेशन सिस्टम को अपग्रेड करने के लिए रिफलाइट एयरवर्क्स लिमिटेड लंदन के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किए थे। स्क्रैप से निकले जाने के बाद बहाली की तैयारी पूरी होने के बाद यह विमान परीक्षण उड़ानों के अधीन था और उड़ान के लिए फिट घोषित किये जाने पर उसने भारत की यात्रा शुरू की।
जानिए अमरीका में एच 1बी वीजा धारकों के जीवन साथी क्यों नहीं कर सकेंगे काम

भारतीय वायुसेना और मैसर्स रिफलाइट एयरवर्क्स लिमिटेड के संयुक्त दल द्वारा डकोटा को भारत भेजा जा रहा है। 17 अप्रैल को विमान ने अपनी वापसी यात्रा शुरू की। अपनी वापसी यात्रा में इस विमान ने फ्रांस, इटली, ग्रीस, जॉर्डन में निर्धारित समय तक हाल्ट भी किया है। अब यह मस्कट से जामनगर तक अपनी यात्रा के अंतिम चरण पर है।
बता दें कि डकोटा डीसी -3 का एक बड़ा बेड़ा 1988 तक आईएएफ में कार्य करता था। 1944 में बनाया गया यह विमान रॉयल वायु सेना के साथ विभिन्न नागरिक एयरलाइंस द्वारा भी संचालित किया गया। तत्कालीन रॉयल इंडियन वायुसेना के मुख्य विमान के रूप में डेकोटा को 1947 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत के लिए कश्मीर घाटी को बचाने के क्रम में गेम चंगेर की भूमिका में रखा जाता है।
 

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

IND vs ZIM: शिखर धवन और शुभमन गिल की शानदार बल्लेबाजी, भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हरायाकौन हैं IAS राजेश वर्मा, जिन्हें किया गया राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का सचिव नियुक्त?पटना मेट्रो रेल के भूमिगत कार्य का CM नीतीश कुमार ने किया उद्घाटन, तेजस्वी यादव भी रहे मौजूदMaharashtra Suspected Boat: रायगढ़ में मिली संदिग्ध नाव और 3 AK-47 किसकी? देवेंद्र फडणवीस ने किया बड़ा खुलासाBihar News: राजधानी पटना में फिर गोलीबारी, लूटपाट का विरोध करने पर फौजी की गोली मारकर हत्यादिल्ली हाईकोर्ट ने फ्लाइट में कृपाण की अनुमति देने पर केंद्र और DGCA को जारी किया नोटिसSSC Scam case: पार्थ चटर्जी, अर्पिता मुखर्जी 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेजे गए, 31 अगस्त को अगली पेशीRohingya Row: अनुराग ठाकुर का AAP पर आरोप, राष्ट्र सुरक्षा से समझौता कर रही दिल्ली सरकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.