जम्मू-कश्मीर: बम-बम भोले के साथ अमरनाथ यात्रा शुरू, डर पर हावी हुई आस्था

जम्मू-कश्मीर: बम-बम भोले के साथ अमरनाथ यात्रा शुरू, डर पर हावी हुई आस्था

खराब मौसम और कई जगहों पर भूस्खलन के कारण भी श्रद्धालुओं के पैर नहीं रूके और शुक्रवार को जय भोले के नारों के साथ यात्रा फिर से शुरु कर दी गई है।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में पिछले कई दिनों से हो रही लगातार बारिश ने अमरनाथ यात्रा में खलल डालने की पुरजोर कोशिस की, लेकिन भक्तों के आगे मौसम को भी झुकना पड़ा।

खराब मौसम और कई जगहों पर भूस्खलन के कारण भी श्रद्धालुओं के पैर नहीं रूके और शुक्रवार को जय भोले के नारों के साथ यात्रा फिर से शुरु कर दी गई है।

बता दें कि पिछले कई दिनों से हो रही आसमानी आफत के कारण कई श्रद्धालुओं को जम्मू बेस कैंप पर ही रोका गया था। खराब मौसम के चलते गुरुवार को श्री अमरनाथ यात्रा बालटाल और पहलगाम दोनों मार्गों से स्थगित कर दी गई थी।

जानकारी है कि लगातार दूसरे दिन भी बालटाल और पहलगाम ट्रैक यात्रा रोकने के कारण करीब 26 हजार यात्री फंसे हुए थे। अभी भी कुछ यात्रियों को कैंप में ही रोका गया है।

राजनाथ नहीं जा सके अमरनाथ, पहलगाम-बालटाल दोनों रास्तों पर लगी रोक

हांलाकि श्राइन बोर्ड और जिला प्रशासनों ने ऐसी परिस्थितियों में यात्रियों के लिए सभी प्रकार के उचित प्रबंध करने का दावा किया है। खबर है कि अब तक लगभग 68202 श्रद्धालुओं ने बाबा बर्फानी के दर्शन कर लिए हैं। मीडिया रिपोर्टस की मानें तो श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन व राज्यपाल एनएन वोहरा ने शुक्रवार को जम्मू का प्रस्तावित दौरा रद्द कर दिया है।

गौरतलब है कि गुरुवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह को भी बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए जाना था लेकिन खराब मौसम के चलते उन्हें अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा। गुरुवार को गृह मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा को बाबा बर्फानी के दर्शन करने के लिए अमरनाथ गुफा जाना था, जिसकी सूचना गृह मंत्री ने ट्वीट करके दी थी।

इसके अलावा राज्य के अन्य हिस्सों में खराब मौसम के चलते हजारों शिव भक्तों को यात्रा पर नहीं भेजा गया है। शुक्रवार तड़के तक भी यात्रा शुरु करने पर संशय बना हुआ था, लेकिन जानकारी है कि यात्रियों को जत्था भोले के दर्शन के लिए निकल पड़ा है।

वहीं श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के सीईओ उमंग नरुला ने बेस कैंप पर रुके हुए यात्रियों से शेड्यूल बनाकर ही यात्रा पर आने को कहा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned