भोजपुरी भाषा विवाद : मनोज तिवारी कराएंगे सिद्धार्थ मल्होत्रा के खिलाफ पुलिस में शिकायत

मनोज तिवारी ने कहा कि भोजपुरी यूपी, बिहार और झारखंड सहित दुनिया के 7 देशों में देश के 22 करोड़ लोगों द्वारा बोले जाने वाली भाषा है। यह सबका अपमान है।

नई दिल्ली : नीतू चंद्रा के बाद भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष, सांसद और भोजपुरी फिल्मों के स्टार मनोज तिवारी ने अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा की ओर से भोजपुरी भाषा पर की गई अपमानजनक टिप्पणी पर बुधवार को नाराजगी जताई और कहा कि वे बृहस्पतिवार को उनके खिलाफ दिल्ली के पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाएंगे। मनोज तिवारी ने कहा कि अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा की भोजपुरी भाषा को लेकर की गई टिप्पणी बहुत ही शर्मनाक है। वह इसके खिलाफ बृहस्पतिवार को एफआईआर दर्ज कराएंगे।

देश के प्रथम राष्ट्रपति की भाषा है भोजपुरी
सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेन्द्र बाबू (देशरत्न राजेंद्र प्रसाद) की भाषा है। मनोज तिवारी ने कहा कि भोजपुरी यूपी, बिहार और झारखंड सहित दुनिया के 7 देशों में देश के 22 करोड़ लोगों द्वारा बोले जाने वाली भाषा है। देश के सबसे ज्यादा आईएएस, आईपीएस, आईआरएस भोजपुरी भाषा बोलते हैं। सिद्धार्थ ने इन सबका अपमान किया है।

क्या है मामला
फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ से बॉलीवुड करियर की शुरुआत करने वाले बॉलीवुड कलाकार सिद्धार्थ मल्होत्रा ‘बिग बॉस-11’ में अपनी फिल्म ‘अय्यारी’ के प्रमोशन के दौरान भोजपुरी भाषा के बारे ‘अभद्र’ टिप्पणी की थी। इस शो में सिद्धार्थ के साथ मनोज वाजपेयी और रकुलप्रीत सिंह के साथ गए थे। इस दौरान सलमान खान ने मनोज बाजपेयी और सिद्धार्थ को भोजपुरी में डायलॉग बोलने का टास्क दिया। सिद्धार्थ डायलॉग बोले तो जरूर, लेकिन बाद में ये कह दिया कि ऐसा करते वक्त उन्हें टॉयलेट वाली फीलिंग आई। सिद्धार्थ मल्होत्रा की इस बात पर बवाल मच गया था। सोशल मीडिया पर वह जमकर ट्रॉल हुए।

नीतू चंद्रा ने लगाई थी क्लास
सिद्धार्थ की यह बात बॉलीवुड अभिनेत्री नीतू चंद्रा को काफी नागवार गुजरी थी। इस पर उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि सिद्धार्थ को भाषा की मान-मर्यादा का ध्यान रखना चाहिए। कोई व्यक्ति कैसे किसी नेशनल टीवी पर ऐसा कर सकता है। भोजपुरी एक सम्मानित भाषा है। देशभर में इसे बोलने वाले कई सारे लोग हैं। खुद मनोज बाजपेयी भी बिहार से हैं और भोजपुरी बोलते हैं। ये हमारे देश की प्राचीन भाषाओं में से एक है। यहां तक कबीर दास और प्रेमचंद जैसे प्रख्यात साहित्यकारों ने पहले अपनी रचनाएं भोजपुरी में लिखी थी।

सिद्धार्थ ने मांगी माफी
हंगामा मचते देख हालांकि सिद्धार्थ ने माफी मांग ली है। उन्होंने लिखा है कि वह टीवी शो के दौरान नई भाषा बोलने की कोशिश कर रहे थे। इस दौरान किसी की भावनाएं आहत हुईं हैं तो उसके लिए माफी चाहता हूं। भावनाओं को ठेस पहुंचाने का मेरा इरादा नहीं था।

 

Sidharth Malhotra
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned