किसान एकता को तोड़ना चाहती है केंद्र सरकार, पीएम मोदी करें किसान नेताओं के साथ बैठक : SS Subharan

 

  • पीएम मोदी करें सभी 507 किसान नेताओं के साथ बैठक।
  • केंद्र किसानों एकता को तोड़ने की कोशिश न करे।

नई दिल्ली। एक तरफ जहां केंद्र सरकार जल्द से जल्द किसान आंदोलन को समाप्त करने की प्रक्रिया में जुटी है तो दूसरी तरफ किसान संगठनों के नेता अपनी जिद पर अड़े हैं। इस बीच किसान मजूदर संघर्ष समिति पंजाब के नेता एसएस सुभरण ने केंद्र सरकार पर किसानों को बांटने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि किसान एकता को भंग करना सही नहीं है। सुभरण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सभी 507 किसान यूनियनों के नेताओं के साथ बैठक करने की मांग की है। उन्होंने कहा जब तक पीएम खुद बैठक नहीं बुलाते हम किसी भी बैठक में शामिल नहीं होंगे। ऐसा इसलिए कि उन्हें अब किसी पर भरोसा नहीं रहा।

बता दें कि किसान आंदोलन का आज आठवां दिन है। गुरुवार को किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच चौथे दौर की बातचीत होनी है। कुछ देर में पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह केंद्रीय गृह मंत्री से इस मुद्दे पर मुलाकात करेंगे। बताया जा रहा है कि दोनों नेता किसान आंदोलन से उत्पन्न स्थिति और समाधान के विकल्पों पर चर्चा करेंगे।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned