वैक्सीन की एक शीशी से लगाई जा रहीं 2 अतिरिक्त डोज, सबसे आगे तमिलनाडु

वैक्सीन की एक शीशी से 10 की जगह निकाली जा रहीं 12 खुराकें, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रायल ने भी माना देश में अब तक 41 लाख से ज्यादा लगाई जा चुकीं अतिरिक्त डोज

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की तीसरी लहर की आहट के बीच केंद्र से लेकर राज्य सरकार तक सभी सतर्क हैं। कोरोना से निपटने के लिए ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन ( Corona Vaccination ) पर जोर दिया जा रहा है। लगातार वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने पर सरकार फोकस कर रही है। लेकिन इस बीच बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल टीकाकरण केंद्रों में वैक्सीन की एक शीशी में से ज्यादा से ज्यादा खुराक निकाले जाने की खबर सामने आई है।

वैक्सीन की एक शीशी में 10 खुराक निकाली जा सकती है, जबकि कई केंद्रों पर 12 डोज निकाले जा रहे हैं। ऐसा अपने केंद्रों को आदर्शन सूची में शामिल किए जाने के लिए किया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ( Union Health Ministry ) ने भी संसद में माना है कि 41 लाख से ज्यादा अतिरिक्त खुराकें लगाई गई हैं।

यह भी पढ़ेंः बच्चों के वैक्सीनेशन की तैयारी, AIIMS प्रमुख डॉ रणदीप गुलेरिया ने बताया कब तक आ सकती है वैक्सीन

इन राज्यों के केंद्रों ने किया दावा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वैक्सीन की 10 खुराक वाली शीशी से 12 डोज निकाले जाने को लेकर कई केंद्रों ने दावा किया है। इनमें चंडीगढ़, हरियाणा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश समेत गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश और कई अन्य राज्यों के केंद्र शामिल हैं। इन केंद्रों का कहना है कि वे आसानी से दो अतिरिक्त डोज निकाल पा रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी माना
एक तरफ वैक्सीन केंद्रों ने दावा किया है तो दूसरी तरफ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी माना है कि उनके पास 41 लाख से ज्यादा अतिरिक्त खुराक निकालने जाने का आंकड़ा मौजूद है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यसभा में बताया कि अब तक देशभर में 41 लाख 11 हजार 516 अतिरिक्त खुराकें दी गई हैं।

इस राज्य में निकाली गई सबसे ज्यादा अतिरिक्त खुराक
जिन राज्यों में अतिरिक्त खुराकें निकाले जाने का दावा किया गया उनमें तमिलनाडु सबसे आगे है। यहां, 5 लाख 88 हजार 243 अतिरिक्त खुराकें दी गईं। जबकि दूसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल हैं, जहां 4 लाख 87 हजार एक्स्ट्रा डोज निकाले गए हैं। वहीं गुजरात में 4 लाख 62 हजार, हरियाणा में 1 लाख 27 हजार और चंडीगढ़ में 5681 अतिरिक्त खुराकें निकाली गई हैं।

इस वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक निकालने का दावा
इन राज्यों से कोविशील्ड वैक्सीन की एक शीशे से 12 खुराकें निकालने का दावा किया गया है, जबकि कंपनी ने अपनी वैक्सीन शीशी से 10 डोज निकालने जाने की बात कही है।

यह भी पढ़ेंः Video: फिर निकला कोरोना का डर, बाजारों से लेकर मंदिरों तक नियमों को ताक पर रख घूम रहे लोग

वैक्सीन कंपनियां भी हैरान
वैक्सीन कंपनियों के साथ एक्सपर्ट्स भी अतिरिक्त डोज निकालने जाने के दावों को लेकर हैरान हैं। उनका मानना है कि शीशी से अतिरिक्त खुराक नहीं निकाली जा सकती।

वहीं दिल्ली के स्वास्थ्य विभाह के पूर्व अधिकारी महेंद्र प्रताप का मानना है कि एक शीशी से दो अतिरिक्त खुराकें नहीं निकाली जा सकतीं। उन्होंने कहा कि, बेहतर प्रशिक्षण और सतर्कता के जरिए ज्यादा से ज्यादा एक शीशी से एक खुराक निकाली जा सकती है। इससे ज्यादा खुराक निकाली जा रही है तो ये गलत है।

कई राज्यों में बर्बाद हो रही खुराकें
वैक्सीन की अतिरिक्त डोज निकाले जाने के साथ ही कई राज्यों में खुराकें बर्बाद भी हो रही हैं। इनमें सबसे आगे त्रिपुरा राज्य है, जहां 27552 डोज बर्बाद हुए हैं। जबकि राजधानी दिल्ली में भी 19,989 खुराकें अब तक बर्बाद हो चुकी हैं। इसी तरह उत्तर प्रदेश में 13207, पंजाब में 13613, मेघालय में 3,518 खुराकें बर्बाद हुई हैं।

Coronavirus in india
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned