scriptDiscussion on peasant movement in British Parliament, Shashi Tharoor said - we cannot blame the central government for this | Farmer Protest : ब्रिटिश संसद में चर्चा पर शशि थरूर बोले - इसके लिए केंद्र को नहीं ठहरा सकते गलत, जानें क्यों? | Patrika News

Farmer Protest : ब्रिटिश संसद में चर्चा पर शशि थरूर बोले - इसके लिए केंद्र को नहीं ठहरा सकते गलत, जानें क्यों?

Breaking :

  • चुने हुए जनप्रतिनिधि को अपनी बात रखने का अधिकार है।
  • भारतीय संसद में भी जनप्रतिनिधि ऐसा कर सकते हैं।

 

नई दिल्ली

Updated: March 11, 2021 09:37:58 am

नई दिल्ली। ब्रिटिश संसद में कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसान आंदोलन पर चर्चा को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि किसानों आंदोलन को लेकर यूके की संसद में चर्चा में कुछ मुझे कुछ आश्चर्यजनक या गलत नहीं लगता है। हमें इसे सामान्य रूप में लेना चाहिए। लोकतांत्रिक समाज में ऐसा होता है।
shashi tharoor
फिलिस्तीन के मुद्दे पर हमने ऐसा किया भी है।
चुने हुए जनप्रतिनिधि अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र होते हैं
मुद्दे पर मैं भारत सरकार को दोषी नहीं ठहरा सकता। लेकिन हमें यह समझना जरूरी है कि ब्रिटिश संसद में किसान आंदोलन पर चर्चा एक पक्ष है। लोकतंत्र में चुने हुए प्रतिनिधि इस मुद्दे पर अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र हैं। यूके के संसद में भी वही हुआ है।
हम भी ऐसा कर सकते हैं

हम भारतीय संसद में भी फिलिस्तीन के मुद्दे पर चर्चा कर सकते हैं। ऐसा हमने पहले किया भी है। आगे भी कर सकते हैं। इस लिहाज से ब्रिटिश संसद को भी ये अधिकार है कि वो किसी दूसरे देश के किसी घरेलू मुद्दे को चर्चा के लिए चुनते हैं या नहीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Assembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारसुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदUP Assembly Elections 2022 : टिकट कटा तो बदली निष्ठा, कोई खोल रहा अपने नेता की पोल तो कोई दे रहा मरने की धमकीPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावUP चुनाव आयोग ने हटाए 3 जिलों में DM, SP, शिकायतों पर एक्शनIIT Madras का 'परख' ग्रामीण व दुर्गम स्थानों में करेगा Corona की जांच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.