गार्गी कॉलेज का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, जनहित याचिका दायर कर CBI जांच की मांग

  • सोमवार को संसद में भी विपक्ष ने उठाया था यह मामला।
  • मामले पर नजर रख रहे हैं कई दिग्गज नेता, एनसीडब्लू, पुलिस।
  • 6 फरवरी को कॉलेज फेस्ट के दौरान हुई थी अभद्रता।

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ का मामला बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया। संसद के बाद सुप्रीम कोर्ट में पहुंचे इस मामले की जांच के लिए जनहित याचिका दाखिल की गई है। याचिका के जरिये अदालत से सीबीआई जांच की मांग की गई है।

बीते 6 फरवरी को गार्गी कॉलेज में हुई घटना को लेकर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका (PIL) दाखिल की गई। इस PIL के जरिये सर्वोच्च न्यायालय से मांग की गई है कि वो अपनी निगरानी में इस मामले की निष्पक्ष जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) से करवाए। दिल्ली पुलिस इस प्रकरण में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर चुकी है।

सोमवार को संसद में विपक्ष की ओर से यह मुद्दा उठाया गया। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने इसका जवाब देते हुए कहा, "गार्गी कॉलेज में हुई घटना की जांच की जा रही है। इस घटना को बाहरी लोगों द्वारा अंजाम दिया गया है। उनके मंत्रालय की ओर से कॉलेज प्रशासन को इस पर ध्यान देने के लिए कहा गया है। हमने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। गार्गी कॉलेज में घुसकर छात्राओं से अभद्रता करने वाले लोग छात्र नहीं हैं। कॉलेज में घुसे ये लोग बाहरी थे।"

महिला आयोग की टीम ने वारदात के बाद कॉलेज का दौरा किया। उधर कॉलेज की छात्राएं कॉलेज प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। छात्राओं का कहना है कि प्रशासन अभी तक इस पूरे मामले पर चुप्पी साधे हुए है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी सोमवार को विरोध प्रदर्शन के बीच गार्गी कॉलेज में छात्राओं व कॉलेज प्रशासन से मुलाकात की।

गार्गी कॉलेज में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ के मामले में सोमवार दोपहर को कॉलेज प्रबंधन ने दिल्ली पुलिस को एक लिखित शिकायत भेजी। इस शिकायत के आधार पर हौजखास पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 452/354/509/34 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

गौरतलब है कि बीते 6 फरवरी को गार्गी कॉलेज के फेस्ट में जुबिन नौटियाल का शो आयोजित किया गया था। इस शो के दौरान छात्राओं से अभद्रता की गई। अभद्रता करने वाले हुड़दंगी कॉलेज की दीवार फांद कर जबरदस्ती कॉलेज परिसर के अंदर दाखिल हुए और छात्राओं से छेड़छाड़ की। कई आरोपियों ने तो कॉलेज के बाहर मेट्रो स्टेशन तक छात्राओं का पीछा किया।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned