नवरात्रि से पहले भक्तों को तोहफा, मोबाइल पर माता वैष्णो देवी के लाइव दर्शन और आरती

  • नवरात्रि से पहले वैष्णो देवी माता ( mata vaishno devi ) का श्रद्धालुओं को आशीर्वाद।
  • श्रीमाता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने मोबाइल ऐप किया लॉन्च।
  • इस ऐप के जरिये लाइव दर्शन, आरती और हवन में भाग लें।

कटरा। चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है... नवरात्रि शुरू होने से पहले ही यह गीत सुनाई देने लगा है। कई लोग कटरा स्थित माता वैष्णो देवी ( mata vaishno devi ) के साक्षात दर्शन करने की तैयारियों में भी जुट गए हैं। हालांकि कोरोना वायरस महामारी के चलते अब मैय्या के दर्शन उतने आसान नहीं रह गए हैं, जबकि आने-जाने समेत रुकने आदि को लेकर भी सख्त आदेशों को पालन करना जरूरी है। ऐसे में मैय्या ने नवरात्रि से पहले अपने भक्तों को एक बड़ा तोहफा दिया है, जिसके जरिये अब श्रद्धालु जहां चाहें वहां पर माता के लाइव दर्शन करने के साथ ही आरती में हिस्सा ले सकते हैं।

कोरोना के बीच नियमों का पालन करते हुए नवरात्रि पर खुद करें ऐसे हवन, जानिए हवन सामग्री

ताजा जानकारी के मुताबिक नवरात्रि से पहले श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने श्रद्धालुओं की एक बड़ी मुश्किल को आसान बना दिया है और कोरोना काल में तो यह दिल मांगी मुराद पूरी होने जैसी है। बोर्ड ने समय के साथ कदमताल मिलाते हुए खुद को ऑनलाइन तो पहले ही कर दिया था, लेकिन अब एक कदम और आगे बढ़ा दिया है।

देश—विदेश के श्रद्धालुओं को माता वैष्णों देवी के लाइव दर्शन के लिए श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। यह मोबाइल ऐप ना केवल किसी भी श्रद्धालु को कहीं भी घर बैठे माता वैष्णो देवी के लाइव दर्शन करने का शानदार मौका देगा, भक्त इसके माध्यम से माता की आरती में भी शामिल हो सकेंगे।

श्री वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के इस मोबाइल ऐप के जरिये श्रद्धालु दर्शन के लिए पंजीकरण भी करा पाएंगे। भक्तों के मन की मुराद पूरी करने वाले इस मोबाइल ऐपस को गुरुवार को जम्मू एवं कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने लॉन्च किया।

नवरात्र उत्सव 2020 : पहले ही दिन सूर्य करेगा तुला राशि में प्रवेश, घटस्थापना व तुला संक्रांति एक ही दिन

वहीं, इस संबंध में श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने विस्तृत जानकारी दी। रमेश कुमार ने कहा कि वैष्णो देवी के भक्तों के लिए अब माता के दर्शन करने की संख्या को बढ़ा दिया गया है। पहले जहां रोजाना पांच हजार भक्तों को ही माता के दर्शन करने की अनुमति दी गई थी, अब इस संख्या को और बढ़ा दिया गया है।

उन्होंने बताया कि पहलेे की तुलना में अब दो हजार ज्यादा यानी सात हजार श्रद्धालु माता के रोजाना दर्शन कर सकते हैं। वहीं, इस मोबाइल ऐप में ऐसा प्रबंध किया गया है कि इसमें भक्त ना केवल आरती या दर्शन, बल्कि हवन का भी लाइव प्रसारण देख सकते हैं। इस नवरात्र के दौरान मंदिर परिसर में 'महा चंडी यज्ञ' का भी आयोजन किया जाएगा।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned