Corona Vaccination से पहले आई स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन, जानिए किसे लगेगी और किसे नहीं

  • Corona Vaccination से पहले सामने आई स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन
  • फैक्ट शीट में बताया किन लोगों को कैसे लगवानी होगी वैक्सीन
  • गाइडलाइन में कुछ लोगों के वैक्सीनेशन की मनाही

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) महामारी के संकट के बीच देशभर में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू होना है। शनिवार को शुरू हो रहे दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इम्यूनाइजेशन को लेकर सतर्कता बरतने को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ एक गाइडलाइन साझा की है।

फैक्टशीट (Fact-Sheet) के रूप साझा की गई इस गाइडलाइन में वैक्सीनेशन से जुड़ी अहम जानकारियां और निर्देश शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि किन लोगों को वैक्सीन कैसे लगवानी है और किन लोगों को फिलहाल टीका नहीं लगवाना है।

कोरोना वैक्सीनेशन से पहले सामने आई बड़ी लापरवाहियां, देश के इन राज्यों में ऐसे मामलों ने बढ़ाई सरकार की चिंता

एक ही वैक्सीन को दोनों डोज
मंत्रालय से जारी बयान के मुताबिक दोनों डोज एक ही वैक्सीन के लेने होंगे। अलग-अलग कंपनी की वैक्सीन का प्रयोग नहीं किया जाएगा। इस बात सबसे ज्यादा ध्यान रखना होग कि पहला डोज कोवैक्सीन का लगा है तो दूसरा डोज भी कोवैक्सीन का ही लगेगा ना कि कोविशील्ड का। इसी तरह पहले कोविशील्ड लेने वाले को बाद में भी कोविशील्ड की ही खुराक लेनी होगी।

इन बातों का रखें ध्यान
1. वैक्सीन सिर्फ 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र वाले लोगों के लिए है
2. वैक्सीन की जिम्मेदारी संभाल रहे लोग को 14 दिनों के अंतराल से अलग किया जाना चाहिए
3.वैक्सीन के इंटरचेंजिंग की अनुमति नहीं है, जिसकी पहली खुराक उसी का दूसरा डोज

ये लोगों को नहीं लगेगी वैक्सीन
1. गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को फिलहाल अभी वैक्सीन नहीं दी जाएगी
2. जिन्हें वैक्सीन की पिछली खुराक के चलते ऑनफ्लेक्टिक या एलर्जी रिएक्शन
3. वैक्सीन या इंजेक्टेबल थैरेपी, फार्मास्युटिकल उत्पाद, खाद्य-पदार्थ आदि से तुरंत या देरी से शुरू होने वाली एनाफिलेक्सिस या एलर्जी
4. SARS-CoV-2 संक्रमण के एक्टिव लक्षण वाले व्यक्ति
5. जिन कोरोना मरीजों को प्लाज्मा दिया गया हो
6. किसी बीमारी के चलते अस्वस्थ्य या अस्पताल में भर्ती लोग

कोविशील्ड वैक्सीनः आपको बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड 10 डोज की शीशी है। एक डोज .05 मिली है। दो खुराक के बीच 4 सप्ताह का गैप। इसे 2 से 8 डिग्री सेल्सियस में स्टोर किया जा सकेगा।

सर्दी ने तोड़ा तीस वर्षों का रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने जारी किया सबसे बड़ा अलर्ट, देश के इन राज्यों में अगले तीन दिन पड़ेगा हाड़ कंपा देने वाली ठंड

कोवैक्सीनः भारत बयोटेक की कोवैक्सीन 20 डोज की शीशी में उपलब्ध है। इसकी एक खुराक भी 0.5 मिली है। दोनों खुराक के बीच 4 सप्ताह का गैप रखना होगा जबकि इसे भी 2-8 डिग्री के बीच स्टोर रखा जा सकेगा।

coronavirus Coronavirus in india
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned