Lockdown 4.0: कड़ी सुरक्षा के बीच Jharkhand में खुली शराब की दुकानें, ई-टोकन और होम डिलीवरी की भी व्यवस्था

  • Coronavirus के कारण देश में Lockdown
  • Lockdown 4.0 में झारखंड ( Jharkhand ) में खुली शराब की दुकानें
  • राज्य में तीन तरह से बेची जा रही है शराब

नई दिल्ली। चीन ( China ) के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ( coronavirus ) के कारण पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। भारत ( coronavirus in india ) में भी इस खतरनाक वायरस का कोहराम जारी है। इस महामारी के कारण देश में लॉकडाउन ( Lockdown ) लागू है। वहीं, Lockdown 4.0 ( Lockdown 4.0 ) में कई चीजों में ढील दी गई है और धीरे-धीरे जनजीवन सामान्य करने की कोशिश जारी है। इसी कड़ी में झाखंड ( Jharkhnad ) में भी अब शराब की दुकानें ( Liquor Shop ) खुल गई हैं। हालांकि, कई राज्यों में शराब की दुकानें पहले ही खुल गई थी।

बुधवार से खुली शराब की दुकानें

जानकारी के मुताबिक, बुधवार से झारखंड में कड़ी सुरक्षा के बीच शराब की दुकानें खोल दी गई हैं। पहले दिन बारिश के बावजूद शराब की दुकानों पर पीने वालों की लंबी लाइनें लगी थी। लेकिन, अभी तक कोई अप्रिय घटना की खबर नहीं है। राजधानी रांची ( Ranchi ) के उप-मंडल ( Sub-divisional officer ) अधिकारी लोकेश मिश्रा ( Lokesh Mishra ) ने कहा कि शराब की दुकानें खोलने को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने, सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन रखने और मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है।

सुरक्षा का रखा जा रहा पूरा ध्यान

लोकेश मिश्रा ने कहा कि किसी तरह की कोई गड़बड़ी न हो इसके लिए दिनभर मजिस्ट्रेट और सुरक्षाकर्मी शहर में घूमत रहते हैं। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने 18 मई को लॉकडाउन 4.0 के दौरान खुदरा शराब की दुकाने खोलने की इजाजत दी थी। वहीं, खरीददारों का कहना है कि सरकार के इस फैसले से अवैध शराब और कालाबाजारी का जो खेल चल रहा था, उस पर रोक लग जाएगी। वहीं, राज्य सरकार ने शराब पर वैट की दर में 25 प्रतिशत का इजाफा कर दिया है। इसके कारण लोगों को 20 से 25 फीसदी तक शराब महंगी मिलेगी। इधर, उत्पाद विभाग ने शराब पर 10 फीसदी विशेष कर भी लगाया है।

होम डिलीवरी और ई-टोकन के जरिए भी मिल रही शराब

वहीं, राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में पहले की तरह शराब बेची जा रही है। जबकि, शहरी क्षेत्रों में ई-टोकन ( E-token ) के साथ-साथ होम डिलीवरी ( Home Delivery ) की भी व्यवस्था की गई है। बताया जा रहा है कि नौ शहरों में फिलहाल होम डिलीवरी की व्यवस्था की गई है, जबकि ई-टोकन के माध्यम से शराब खरीदने वालों की प्राथमिकता दी जा रही है।

coronavirus COVID-19
Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned