आसिया अंद्राबी को नहीं मिली राहत, एनआईए कोर्ट ने 1 अक्टूबर तक बढ़ाई न्यायिक हिरासत

आसिया अंद्राबी को नहीं मिली राहत, एनआईए कोर्ट ने 1 अक्टूबर तक बढ़ाई न्यायिक हिरासत

अंद्राबी के साथ उसकी दो सहयोगियों की न्यायिक हिरासत भी बढ़ा दी गई है। आसिया को फिलाहल दिल्ली की तिहाड़ जेल में रखा हुआ है।

नई दिल्ली। अक्सर देशविरोधी गतिविधियों में शामिल रहने वाली जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी की एनआईए की विशेष अदालत से झटका लगा है। दरअसल, शुक्रवार को आसिया अंद्राबी को एनआईए की विशेष अदालत से राहत नहीं मिली और उसकी न्यायिक हिरासत को 1 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दिया है। अंद्राबी के साथ उसकी दो सहयोगियों की न्यायिक हिरासत भी बढ़ा दी गई है। आसिया को फिलाहल दिल्ली की तिहाड़ जेल में रखा हुआ है।

जुलाई में भी बढ़ा दी गई थी आसिया की हिरासत

आपको बता दें कि आसिया को जुलाई में एनआईए ने हिरासत में लिया था इसके बाद एनआईए की विशेष अदालत ने आसिया को 6 जुलाई को 15 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेज दिया था। इसके बाद इस हिरासत को 10 दिन के लिए और बढ़ा दिया गया था। आज भी कोर्ट ने आसिया की हिरासत को बढ़ाकर 1 अक्टूबर तक कर दिया है।

युवाओं को भड़काने की साजिश

आसिया अंद्राबी पर आरोप है कि वह घाटी में पाकिस्तान के समर्थन से भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देती है और अक्सर युवाओं को भड़काने का आरोप भी आसिया पर लगता रहा है। अंद्राबी पर यह आरोप भी है कि वह अपने संगठन 'दुख्तरन-ए-मिल्लत' के जरिए कश्मीर में युवकों को भारत विरोधी गतिविधियों के लिए भड़काती है। ऐसे कई वीडियो भी सामने आए हैं जिसमें अंद्राबी को भारत विरोधी और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाते हुए देखा जा सकता है।

भारत विरोधी गतिविधियों में संलिप्त

इससे पहले एनआईए की तरफ से कोर्ट में कहा गया था कि 'जांच के दौरान, यह पाया गया कि ये लोग पाकिस्तान में अपने सहयोगियों के सात लगातार संपर्क में थे और भारत विरोधी गतिविधियों में संलिप्त थे।' एजेंसी के मुताबिक 'मौजूदा जांच से यह खुलासा हुआ है कि आरोपी महिलाएं आसिया अंद्राबी, सोफी फहमीदा और नाहिदा नसरीन साजिश रचने में संलिप्त पाई गईं और भारत की एकता और संप्रभुता को अस्थिर करने की दिशा में काम किया।'

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned