Weather Forecast : उत्तर और पूर्वोत्तर भारत में मूसलाधार बारिश के आसार, असम और बिहार बाढ़ से बदहाल

  • North and Northeast India में 26 से 29 जुलाई के बीच तेज बारिश की संभावना।
  • पूर्वोत्तर भारत के सभी राज्यों में Heavy rain का पूर्वानुमान।
  • UNICEF की report के मुताबिक देशभर में बारिश से 24 लाख बच्चे प्रभावित।

नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों के दौरान भारी बारिश से असम और बिहार ( Assam and Bihar ) में आई बाढ़ से तबाही का मंजर है। अब भारतीय मौसम विभाग ( Indian Meteorology Department ) केंद्र ने 26 से 29 जुलाई के बीच भारी बारिश ( heavy rain ) की आशंका जाहिर की है। अगर ऐसा हुआ तो असम और बिहार में हालात बिगड़ सकता है। साथ ही उत्तर और पूर्वोत्तर भारत ( North and Northeast India ) में बारिश में जनजीवन प्रभावित होने की संभावना है।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक मानसून के चलते 26 से 29 जुलाई के बीच तेज बारिश होने के आसार नजर आ रहे हैं। मॉनसून का रुख 26 जुलाई से हिमालयी तलहटी ( Himalayan foothills ) की ओर बढ़ना शुरू हो जाएगा। उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार और 27 से 29 जुलाई के बीच पंजाब तथा हरियाणा में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना ज्यादा है।

आईएमडी ( IMD ) ने कहा कि 26 से 29 जुलाई के बीच पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है।

Border Dispute : भारत-चीन के बीच कूटनीतिक स्तर की बैठक आज, इस मुद्दे पर दोनों पक्ष दे सकते हैं जोर

असम और बिहार में और गहरा सकता है तबाही का मंजर

आईएमडी के पूर्वानुमानों के मुताबिक भारी बारिश हुई तो असम और बिहार में बाढ़ ( Floods in Bihar ) का मंजर लोगों के लिए भारी तबाही का सबब साबित होगा। गुरुवार को दोनों राज्यों में बाढ़ की स्थिति पहले से ज्यादा गंभीर हो गई।

देशभर में 24 लाख बच्चे प्रभावित

यूनिसेफ की रिपोर्ट (UNICEF report ) के मुताबिक देशभर में 24 लाख बच्चे प्रभावित हुए हैं। उन्हें तुरंत मदद की जरूरत है। बाढ़ जनित घटनाओं में असम में और 4 लोगों की मौत हो गई। पिछले कुछ दिनों में जल ग्रहण क्षेत्र में भारी बारिश के कारण उत्तर बंगाल में तीस्ता, कलजानी और मनसाई समेत कई नदियां उफान पर है। बिहार के 12 जिलों में स्थिति गंभीर बनी हुई है। इस वजह से निचले इलाके में रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा है।

बिहार में कोरोना विस्फोट के लिए कौन जिम्मेदार - प्रवासी मजदूर या सीएम नीतीश कुमार?

दिल्ली में 50 फीसदी ज्यादा बारिश

दिल्ली ( Delhi-NCR ) में जुलाई में औसत से 50 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है। मौसम विभाग के आंकड़ों, सफदरजंग वेधशाला के मुताबिक दिल्ली में अब तक जुलाई में 225 मिलीमीटर बारिश हुई जो कि सामान्य बारिश 149.8 मिलीमीटर से पचास प्रतिशत अधिक है ।

Weather forecast IMD alert
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned