भारत के साथ रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करेंगे बाइडेन, चीन को घेरने के लिए आसियान देशों को लेंगे साथ

  • न्यूजीलैंड, सिंगापुर, वियतनाम को भी साथ जोड़ने की पर जोर।
  • जम्मू-कश्मीर में भारत की कोशिशों की तारीफ की।

नई दिल्ली। अमरीका में सरकार बदलने के बाद भी वहां के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारत के साथ रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने की वकालत की है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की इंटरिम नेशनल सिक्योरिटी स्ट्रेटजिक गाइडेंस में ये बातें कही गई हैं। यह गाइडेंस राष्ट्रपति बाइडेन का विजन डाक्यूमेंट है। इस विजन डाक्यूमेंट में बताया गया है कि अमरीका भारत के साथ अपनी साझेदारी को पहले से ज्यादा मजबूती देना चाहता है।

विदेश विभाग ने केंद्र के प्रयासों की सराहना की

वहीं अमरीकी विदेश विभाग ने कहा है कि भारत की ओर से केंद्रशासित प्रदेश जम्मू.कश्मीर में सिलसिलेवार तरीके से आर्थिक और राजनीतिक प्रक्रियाओं को बहाल करने के कदमों का हम स्वागत करते हैं। भारत में हमेशा से लोकतांत्रिक मूल्यों को तवज्जो देने में आगे रहा है। हम अपने राष्ट्रीय हितों के अनुरूप इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में देशों व यूरोपीय देशों के साथ अपने संबंधों को और गहरा करेंगे।

न्यूजीलैंड, सिंगापुर और वियतनाम को भी साथ जोड़ने की कवायद

हम भारत के साथ न्यूजीलैंड, सिंगापुर, वियतनाम और अन्य आसियान सदस्य राज्यों के साथ साझा उद्देश्यों को आगे बढ़ाने के लिए काम करेंगे। साझा इतिहास और बलिदान के संबंधों पर जोर देते हुए हम प्रशांत द्वीपों के राज्यों के साथ साझेदारी को मजबूत करेंगे। बाइडेन की इस नीति को चीन पर शिंकजा कसने की तैयारी माना जा रहा है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned