रूस मामले में झूठ बोलने पर ट्रंप के पूर्व सलाहकार को 14 दिन की जेल

रूस मामले में झूठ बोलने पर ट्रंप के पूर्व सलाहकार को 14 दिन की जेल

पापाडोपोलोस ने वाशिंगटन में अदालत को बताया कि वह 'देशभक्त अमरीकी' हैं और उन्होंने झूठ बोलकर गलती की।

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पूर्व सलाहकार जॉर्ज पापाडोपोलस को 14 दिन की जेल की सजा सुनाई गई है। लंदन के पब में उनकी टिप्पणी के बाद 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के रूस की कथित दखल की जांच शुरू हुई थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 31 वर्षीय जॉर्ज पापाडोपोलोस ने वाशिंगटन में अदालत को बताया कि वह 'देशभक्त अमरीकी' हैं और उन्होंने झूठ बोलकर गलती की।

9,500 अमेरिकी डॉलर का जुमार्ना

मॉस्को के लिए कथित तौर पर हुई बैठकों के समय के बारे में एफबीआई को झूठ बोलने के लिए पिछले साल अक्टूबर में पापाडोपोलस को दोषी ठहराया गया था। वह 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी साजिश की जांच में गिरफ्तार किए गए ट्रंप के पहले पूर्व सहयोगी हैं। पापडोपोलोस को शुक्रवार को सुनाई गई जेल की सजा में 12 महीने तक प्रतिबंधों के तहत रिहाई, 200 घंटे की सामुदायिक सेवा करने और 9,500 अमेरिकी डॉलर का जुमार्ना भरने के लिए भी कहा गया है।

विदेश नीति सलाहकार पैनल के पूर्व सदस्य रहे हैं

जॉर्ज डेमेट्रियोस पापाडोपोलोस का जन्म शिकागो में 1 9 अगस्त 1 9 87 में को हुआ। उनके पिता भी अमरीकी राजनीति का हिस्सा रह चुके हैं। पिता ग्रीस से यहां आकर बस गए थे। पापाडोपोलोस 2016 में डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति अभियान में विदेश नीति सलाहकार पैनल के पूर्व सदस्य रहे हैं। पांच अक्टूबर, 2017 को, पापाडोपोलोस ने एफबीआई एजेंटों को अमरीका और रूस संबंधों के बारे में बताया। उसने ट्रंप के चुनावी अभियान में रूस की दखलअंदाजी के झूठे बयान दिए थे। इसके बाद ट्रंप पर विपक्षी नेताओं ने गंभीर आरोप लगाए थे। यहां तक की उनकी बेटी इंवाका के पति पर रूस से कथित संबंध होने के आरोप लगे थे। इस मामले में ट्रंप ने एक ट्वीट के जरिए पापाडोपोलोस को सजा दिए जाने पर संतोष व्यक्त किया है। शुरूआत में जब ट्रंप के रूस से संबंध होने के आरोप लगे थे तो अमरीकी मीडिया में विपक्षी दलों ने बयान दिए थे कि ट्रंप को अपने पद से इस्तीफ दे देना चाहिए।

 

Ad Block is Banned