इजराइल का दावा, अगले 15 से 20 दिनों में कोरोना फ्री होगा पूरा देश

यह दुनिया का पहला देश होगा, जहां पर बंद स्थानों में भी मास्क लगाने की जरूरत नहीं होगी।

नई दिल्ली। इस्राइल में कोरोना काल में आउटडोर मास्क के साथ इनडोर मास्क पर भी छूट दे दी गई है, यानि अब लोग बाहर के साथ बंद कमरों में भी बिना मास्क के रह सकेंगे। यह दुनिया का पहला देश होगा, जहां पर बंद स्थानों में भी मास्क लगाने की जरूरत नहीं होगी।

Read More: मेहुल चोकसी की कानूनी टीम ने वीडियो के जरिये किया खुलासा, एंटीगुआ से किया गया था किडनैप

मास्क लगाना जरूरी होगा

स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार से पाबंदी से छूट दे दी है। मंत्रालय के अनुसार कोराेना मरीजों की कम होती संख्या को देखते हुए यह फैसला ले लिया गया है। हालांकि कोरोना वैक्सीन न लगाने वाले कर्मियों और वृद्धाश्रमों में काम करने वाले कार्यकर्ताओं को ही मास्क लगाना जरूरी होगा। साथ ही विमान से यात्रा और क्वारेंटाइन के दौरान मास्क पहनना जरूरी होगा।

इसके साथ अस्पताल या नर्सिंग होम में भर्ती हैं, उन्हें भी मास्क लगाने की आवश्यकता है। अभी तक इजरायली स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्कूलों को लेकर कोई आदेश नहीं दिए हैं। गौरतलब है कि राजनीतिक उठापटक के बीच देश में बीते हफ्ते से 12 से 15 वर्ष के बच्चों का कोरोना टीकाकरण अभियान जारी है। अभी तक करीब छह लाख बच्चों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा है कि आने वाले 15 से 20 दिनों के अंदर इस्राइल कोरोना फ्री हो जाएगा। यहां आने वाले पर्यटकों को टेस्ट कराना जरूरी है।

Read More: बांग्लादेश: मशहूर अभिनेत्री पोरी मोनी ने एक बड़े उद्योगपति पर लगाया रेप व हत्या के प्रयास का आरोप, आरोपी गिरफ्तार

डेढ माह में दुनिया में घटे कोरोना के मामले

दुनिया भर में कोरोना वायरस के मामले तेजी से घटे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का कहना है कि कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में लगातार कमी आई है। संगठन का कहना है कि पूरी दुनिया में डेढ़ साल में पहली बार कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आई है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने यह जानकारी दी है।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned